कैबिनट बैठक में सीएम योगी देने जा रहे अखिलेश को झटका, ले सकते हैं यह बड़ा फैसला

सीएम यगी की अध्यक्षता में शुक्रवार शाम को लोकभवन में कैबिेनेट बैठक होने जा रही है, जिसमें समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को झटका दिया जा सकता है।

लखनऊ. सीएम यगी की अध्यक्षता में शुक्रवार शाम को लोकभवन में कैबिेनेट बैठक होने जा रही है, जिसमें समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को झटका दिया जा सकता है। सूत्रों की मानें को सीएम योगी पूर्व की सपा सरकार में लिए गए एक फैसले को पलट सकते हैं। होने वाली कैबिनेट बैठक में कई अहम फैसले लिए जाने हैं। कई प्रस्तावों को मंजूरी दी जानी है। शाम 8 बजे यह कैबिनेट बैठक होनी है।

ये भी पढ़ें- बदल गए लखनऊ समेत 10 जिलों के डीएम, 25 IAS अफसरों के हुए तबादले, देखें पूरी लिस्ट

विकास खंडों के सृजन प्रस्ताव हो सकते हैं रद्द-
कहा जा रहा है कि कैबिनेट बैठक में पूर्व की समाजवादी पार्टी सरकार के एक बड़े फैसले को योगी कैबिनेट पलट सकती है। इसमें साल 2017 के विधानसभा चुनाव से पूर्व तत्कालीन समाजवादी पार्टी की सरकार ने 30 में से 28 नए विकास खंडों के सृजन करने का प्रस्ताव रखा था। इससे एक ही दिन में 30 नए विकास खंड बनाए गए थे। जिससे राज्य में विकास खंड की संख्या 821 से बढ़कर 851 हो गई थी। माना जा रहा है कि योगी सरकार 30 में से 28 के सृजन प्रस्ताव को निरस्त (रद्द) कर सकती है।

ये भी पढ़ें- कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले की बदल गई पूरी तस्वीर, अंडरवर्ल्ड का नाम आया सामने, आया बड़ा बयान

बढ़ते प्रदूषण से निपटने के लिए भी होगा मंथन-

वहीं यूपी के कई जिलों में बढ़ते प्रदूषण के स्तर और धुंध से निपटने को लेकर भी सीएम योगी बैठक करेंगे। इस बैठक में मुख्य सचिव व प्रमुख सचिव पर्यावरण भी शामिल होंगे। आपको बता दें कि थिति ये है यूपी के आठ बड़े शहर देश के सबसे प्रदूषित शहरों की सूची में शामिल हैं, जिनमें गाजियाबाद, ग्रेटर नोएडा, नोएडा, हापुड़, बागपत, कानपुर, बुलंदशहर और मेरठ शामिल हैं।

Abhishek Gupta Desk/Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned