रॉयल्टी जमा न होने पर ईंट भट्ठा संचालकों पर बिफरे डीएम, जमा करा दें वरना बंद होंगे भट्ठे

प्रदूषण नियंत्रण विभाग से अनापत्ति प्रमाण पत्र जरूर ले लें वरना संकट : डीएम

By: Mahendra Pratap

Published: 20 Nov 2020, 05:56 PM IST

श्रावस्ती. रॉयल्टी न जमा होने पर ईंट भट्ठा संचालकों पर डीएम बिफरे। डीएम ने कहाकि अगर इस माह के अंत तक रॉयल्टी नहीं जमा हुई तो भट्ठा संचालन बंद होगा। साथ ही भट्ठा संचालकों को चेताते हुए कहाकि, प्रदूषण नियंत्रण विभाग से अनापत्ति प्रमाण पत्र जरूर ले लें वरना संकट आ जाएगा।

श्रावस्ती जिलाअधिकारी ने राजस्व वसूली को लेकर ईंट भट्ठा संचालकों के साथ कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक की। बैठक का संचालन खनन निरीक्षक चंद्र प्रकाश जायसवाल ने किया। ईंट भट्ठा संचालकों को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी टीके शिबु ने कहाकि, प्रदेश में राजस्व वसूली से ही सरकार की अनेक जन कल्याणकारी योजनाओं का संचालन किया जाता है, इसलिए जिले के संबंधित ईट भट्ठा संचालक जिन्होंने अभी तक रॉयल्टी नही जमा की है वे इस माह के अंत तक जमा कराना सुनिश्चित करें।

अनापत्ति प्रमाण पत्र ले लें :- डीएम ने आगे कहाकि, कुछ भट्टा संचालक ऐसे भी है जो बिना प्रदूषण नियंत्रण विभाग से अनापत्ति प्रमाण पत्र लिए अपने भट्ठों का संचालन कर रहे हैं जो नियम के विपरीत है। यदि एक सप्ताह के अंदर भट्ठा संचालकों द्वारा संबंधित विभाग से अनापत्ति प्रमाण पत्र लेकर संचालन नहीं किया गया तो ऐसे भट्ठों को सूचीबद्ध करके उनके संचालन पर रोक लगा दी जाएगी।

भट्ठा मजदूरों संग नरमी से पेश आएं मलिक :- जिलाधिकारी ने भट्ठा संचालकों से कहा कि उनके भट्ठे पर काम करने वाले मजदूर चाहे वो इस जनपद के हो या अन्य प्रान्त से आये हो उनको अपने परिवार की तरह ही भट्ठों पर सभी आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराई जाएं। उनका समय समय पर स्वास्थ्य परीक्षण भी कराया जाए और स्वास्थ परीक्षण के दौरान यदि कोई भी मजदूर अस्वस्थ मिलता है तो उनके इलाज की समुचित व्यवस्था की जाए।

Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned