श्रावस्ती में पर्यटन की अपार सम्भावनाएं : पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी

पर्यटन मंत्री ने बौद्ध स्थली श्रावस्ती स्थित बुद्धा थीम पार्क का किया औचक निरीक्षण

By: Mahendra Pratap

Updated: 17 Feb 2021, 12:44 PM IST

श्रावस्ती. यूपी के राज्यमंत्री पर्यटन नीलकंठ तिवारी ने बौद्ध स्थली श्रावस्ती स्थित निर्माणाधीन बुद्धा थीम पार्क का आकस्मिक निरीक्षण किया। साथ ही अधूरे कार्य को गुणवत्तापूर्ण ढंग से करा कर इसी वित्तीय वर्ष में पूर्ण कराने का निर्देश दिया।

आजादी के बाद भारत में पहली बार एक महिला शबनम को दी जाएगी फांसी

श्रावस्ती जिले में पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से 51.22 करोड़ रुपए की लागत से श्रावस्ती स्थित उत्तर प्रदेश पर्यटक गृह कैम्पस के पास बुद्धा थीम पार्क का निर्माण कराया जा रहा है। जिसका मंगलवार को प्रदेश के पर्यटन राज्य मंत्री नील कंठ तिवारी ने औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान बुद्धा थीम पार्क में पर्यटकों की सुविधा के लिए पर्यटन सुविधा केन्द्र, विश्व शांति घण्टा घर, पार्किंग, लाइट साउंड शो, सोलर लाइट एवं ओपेन थियेटर आदि का कार्य कराया जाना था। जिनमे लाइट एवं साउंड शो एवं ओपेन थिएटर के अलावा सभी कार्य पूरे हो गए है। राज्य मंत्री ने अधूरे दोनों कार्यो को इसी वित्तीय वर्ष में 31 मार्च तक पूरा कराने के लिए कार्यदायी संस्था राजकीय निर्माण निगम के परियोजना प्रबन्धक के प्रतिनिधि के रूप में उपस्थित अवर अभियंता राजेन्द्र कुमार को निर्देश दिया है।

बोधि वृक्ष को नमन किया :- राज्य मंत्री ने फिर जेतवन का भ्रमण किया। जेतवन में जिस महाबोधि वृक्ष को महात्मा गौतम बुद्ध की मौजूदगी में बौद्ध भिक्षु आनन्द ने रोपा था, वह बोधि वृक्ष बताया जाता है कि लगभग ढाई हजार वर्ष पुराना है। वहां पर जाकर दर्शन कर बोधि वृक्ष को नमन भी किया। तत्पश्चात गन्ध कुटी का भी भ्रमण किया यहां पर महाराष्ट्र से दर्शन करने आये दर्शनार्थियों से भी मिले और उनका कुशलक्षेम भी जाना। इसके साथ ही उन्होंने अंगुलीमाल गुफा एवं अनाथ पिण्डक स्तूप का भी भ्रमण किया।

अफसर और कर्मचारी थे अलर्ट :- इस दौरान पर्यटन राज्य मंत्री के साथ श्रावस्ती विधायक रामफेरन पाण्डेय, प्रदेश के प्रमुख सचिव पर्यटन मुकेश कुमार मेश्राम, जिलाधिकारी टीके शिबु, क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी आरपी यादव, उपजिलाधिकारी राजेश कुमार मिश्रा, तहसीलदार शिवध्यान पाण्डेय सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned