एक जुलाई से आंगनबाड़ी केन्द्रों पर लटक सकता है ताला

एक जुलाई से आंगनबाड़ी केन्द्रों पर लटक सकता है ताला
Aanganwari

अभी तक नहीं मिल रहा बढा हुआ मानदेय

सिद्धार्थनगर. आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं के प्रति अगर सरकार गम्भीर नहीं हुई तो जिले के सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों पर ताला लटक सकता है। इस सम्बंध में महिला आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ की पदाधिकारियों को जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपकर अपनी समस्याओं से अवगत कराते हुए मांगों के पूरा नहीं होने पर एक जुलाई से आंगनबाड़ी केन्द्रों पर ताला बन्द करने का ऐलान किया है।


संगठन की जिलाध्यक्ष नीलम पाण्डेय ने बताया कि अभी तक सरकार द्वारा कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं के बढ़ाए गए मानदेय का भी भुगतान नहीं किया जा रहा है। जिसको लेकर रोष है। कार्यकर्ताओं का कहना कि हाट कुक्ड योजना हो या फिर पोषाहार वितरण कार्य को ग्राम रोजगार से जोडकर कर कराया जाय तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से उनका मूल काम कराया जाये, इसके एवज में 15 हजार रूपए मासिक मानदेय का निर्धारण किया जाय। जिससे कि जनता में आंगनबाड़ी व कार्यकर्त्रियों के प्रति व्याप्त गलत अवधारणा को समाप्त किया जा सके।

यह भी पढ़ें:
बेरोजगारों के लिए खुशखबरी, इस विभाग में कई पदों पर होगी भर्ती


अपने ज्ञापन में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने बताया है कि अन्य राज्यों में दूसरी व्यवस्था के तहत कार्य कराया जा रहा है, ऐसे में यहां पर भी दूसरी व्यवस्था के तहत कार्य कराया जाना चाहिए और कार्यकर्ताओं को एक सम्मानजनक मानदेय का निर्धारण करना चाहिए। जिलाध्यक्ष नीलम पाण्डेय ने बताया कि अगर सरकार ने इस संबंध में कोई ठोस निर्णय नहीं लिया तो एक जुलाई से जिले के आंगनबाड़ी केन्द्रों पर तालाबन्दी कर कार्य का बहिष्कार किया जाएगा। जब तक सरकारी हमारी मांग नहीं मानेगी तब तक हड़ताल जारी रहेगा।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned