यूपी के लाल का कमाल, गोल्डेन बुक ऑफ अवार्ड में दर्ज हुआ नाम

यूपी के लाल का कमाल, गोल्डेन बुक ऑफ अवार्ड में दर्ज हुआ नाम
Mahesh Yogi

सबसे बडे़ योग मैराथन के लिए शामिल हुआ नाम, पतंजलि ने अहमदाबाद में आयोजित किया था योग मैराथन

सिद्धार्थनगर. बुद्ध भूमि के लाल ने एक और कमाल कर दिखाया। सबसे बड़े योग मैराथन को पूरा करने पर जिले के चित्रकार महेश योगी का नाम गोल्डेन बुक ऑफ अवार्ड में शामिल किया गया। इससे सम्बंधित प्रमाण पत्र अहमदाबाद में आयोजित योग मैराथन कार्यक्रम के पूरा होने के दौरान प्रदान किया गया। जिले के युवा की इस उपलब्धि पर सभी में हर्ष है। अहमदाबाद में पतंजलि योग पीठ द्वारा 51 घण्टे के योग मैराथन की शुरूआत सोमवार की सुबह पांच बजे से हुआ था। योग मैराथन में चित्रकारी व योग कलाओं से पूरे भारत में अपना झंडा बुलंद करने वाले जिले के महेश त्रिपाठी भी विशेष आमंत्रण पर योग मैराथन में हिस्सा लिया। 51 घण्टे तक लगातार योग को सफलता पूर्वक पूरा करने पर गोल्डेन बुक ऑफ अवार्ड में महेश योगी का नाम शामिल किया गया है।

यह भी पढ़ें:

योग दिवस पर सड़क पर उतरे किसान, कहा- सरकार योग में व्यस्त, मर रहा किसान

योग गुरु बाबा रामदेव की देखरेख में चले योग मैराथन से पहले भी जिले के अल्लाहपुर मझारी गांव निवासी महेश बिना कुछ खाए पिए 76 घण्टे तक लगातार योग करने का रिकार्ड बना चुकें है। सोमवार की सुबह पांच बजे योग मैराथन की शुरूआत योग गुरु बाब राम देव व उत्तराखण्ड के उप मुख्यमंत्री द्वारा किया गया। योग मैराथन का समापन अर्न्तराष्ट्रीय योग दिवस पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह व योग गुरु राम देव द्वारा योग दिवस में भाग लेकर किया गया। भारत में इस तरह का पहला कार्यक्रम आयोजित किया गया था। जिसमें भाग लेने से बुद्ध भूमि अछूता नहीं रहा।  इससे पहले अहमदाबाद के जीएमडीसी ग्राउंड में पांच लाख लोग एक साथ योग करने विश्व रिकार्ड बना चुकें है। एक बार फिर यह ग्राउंड नया विश्व रिकार्ड बनाने के लिए साधना शुरू हुई तो इसका रिकार्ड जिले के युवक के नाम रहा।


जिले के चित्रकार महेश योगी अपने अाश्चर्यजनक कलाकृतियों के माध्यम से पूरे भारत में छा चुके है। उन्हें इसके लिए राष्ट्रपति व राज्यपाल द्वारा पुरस्कृत भी किया जा चुका है। चित्रकारी के साथ योग शास्त्री के रूप में महेश अम्बेडकरनगर के इन्द्रावती पीजी कॉलेज में बिना रूके बिना कुछ खाएं पिए 13 दिसम्बर 2016 से 76 घण्टे तक लगातार योग करने का रिकार्ड बना चुके हैं। उनके इस प्रतिभा व रिकार्ड के कारण योगगुरू बाबा रामदेव द्वारा योग मैराथन का हिस्सा बनने के लिए विशेष रूप से आमंत्रित किया गया था। उनकी इस उपलब्धि पर योग गुरु बाबा रामदेव ने बधाई देते हुए उन्हें योग ऋषि की संज्ञा दी। उन्होंने कहा कि महेश योग को आने ले जाने का काम करेंगे। महेश की उपलब्धि पर जिले के बुद्धजीवी वर्ग में खुशी है। सभी ने इसके लिए उन्हें बधाई दी है।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned