90 फीसदी बच्चों के टीकाकरण को चलेगा सघन मिशन इन्द्रधनुष

90 फीसदी बच्चों के टीकाकरण को चलेगा सघन मिशन इन्द्रधनुष
Mission Indradhanush

मिशन इन्द्रधनुष में भी नहीं हो सका शत प्रतिशत बच्चों का टीकाकरण, अक्टूबर से शुरू होकर चार माह तक चलेगा विशेष अभियान

सिद्धार्थनगर. मिशन इन्द्रधुनष में शत प्रशित बच्चों का टीकाकरण नहीं होने पर सघन मिशन इन्द्रधनुष अभियान की शुरूआत की जाएगी। मिशन इन्द्रधनुष के तहत शून्य से दो वर्ष तक के बच्चों को सात बीमारियों से बचाने के लिए विभिन्न प्रकार के टीके लगाए जाएंगे जिससे कि बच्चों के जीवन की रक्षा हो सके।


मिशन इन्द्रधनुष में भी शतप्रतिशत बच्चों का टीकाकरण नहीं होने पर केन्द्र सरकार सघन मिशन इन्द्रधनुष अभियान की शुरूआत करने की जा रही है। इस अभियान के दौरान शून्य से दो वर्ष तक के 90 फीसदी बच्चों को टीकाकरण से अच्छादित करने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए जिम्मेदारों को प्रशिक्षित किया जाएगा।


यह भी पढ़ें:

सुरक्षा को लेकर सीएजी रिपोर्ट चिंताजनक, आधुनिक हथियारों से अपरिचित है यूपी पुलिस


अभियान की सफलता के लिए एएनएम व आशा के माध्यम से एक एक गांव के प्रत्येक घरों का सर्वेक्षण कराकर बच्चों का हेड काउंट कराया जाएगा। इसी तरह से गर्भवती महिलाओं को भी चिन्हित किया जाएगा। जिसके आधार पर टीकाकरण की तिथि सुनिश्चित कर 90 फीसदी बच्चों का टीकाकरण कराया जाएगा। इसके लिए अभी से ही योजना बनाई जा रही है। जिससे कि शत प्रतिशत बच्चों का टीकाकरण किया जा सके। अक्टूबर माह में चलने वाले सघन मिशन इन्द्रधनुष की तैयारी स्वास्थ्य विभाग द्वारा अभी से ही की जा रही है। इसके लिए अगस्त माह के अन्त तक पूरी कार्ययोजना तैयार कर ली जाएगी। जिसके बार अभियान की शुरूआत की जाएगी।



अभियान की सफलता के लिए पूरे जिले की एएनएम व आशाओं को प्रशिक्षित किया जाएगा गांव स्तर पर काम करने वाली स्वास्थ्य कर्मचारियों के प्रशिक्षण का शेड्यूल भी जारी कर दिया गया है। सोमवार को जिले के विभिन्न ब्लॉकों में एएनएम व आशा को प्रशिक्षित किया जाएगा। इस सम्बंध में मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ.राजेन्द्र कपूर ने सी अधीक्षकों व प्रभारी चिकित्साधिकारियों को निर्देशित कर दिया है। जिससे कि समय से प्रशिक्षण का पूरा किया जा सके। सीएमओ ने कहा है कि इस कार्य में किसी भी स्तर की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। 
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned