मासूमों को निमोनिया से बचाएगा न्यूमोकॉकल

मासूमों को निमोनिया से बचाएगा न्यूमोकॉकल
Vaccination

सिद्धार्थनगर सहित प्रदेश के छह जिलों के मासूमों को मिलेगा लाभ

सिद्धार्थनगर. निमोनिया के कारण मासूमों की मौत नहीं होगी। इसके लिए प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने व बच्चों को बीमारी से बचाने के लिए टीकाकरण किया जाएगा। तराई इलाकों के मासूमों को अपना शिकार बनाने वाले निमोनिया को न्यूमोकॉकल मात देगा। बच्चे इस बीमारी का शिकार न हो इसके लिए उन्हें पीवीसी का टीका लगाया जाएगा। जो निमोनिया के वाहन माने जाने वाले बीस प्रकार के विषाणुओं से लड़ने की क्षमता को बढ़ाने का काम करेंगे। जिससे कि मासूमों को बीमारी से बचाया जा सके।


इस संबंध में गुरुवार को मास्टर ट्रेनरों को प्रशिक्षित किया गया। यह विशेष वैक्सीन तीन प्रदेशों में एक साथ लांच की जा रही है। बिहार के 17 जिलों में अरूणाचल प्रदेश के सभी जिलों व उत्तर प्रदेश के महज सात जिलों में इस वैक्सीन के टीकारण की शुरूआत की जा रही है। जिसमें सिद्धार्थनगर भी शामिल है। विश्व के कई देशों में इस वैक्सीन के प्रभाव को देखने के बाद भारत सरकार इसे नियमित टीकाकरण का हिस्सा बना रही है। जिसके तहत छह माह के मासूमों को यह निमोनिया से बचाने के लिए उन्हें इसका टीका लगाया जाएगा। जिससे कि मासूम निमोनिया नामक जानलेवा बीमारी की चपेट में न आने पाएं।


गुरुवार को अम्बेडकर सभागार में चल रहे प्रशिक्षण के दौरान जिलाधिकारी कुणाल सिल्कू ने सभी जिम्मेदारों को वैक्सीन की महत्ता के प्रत्येक जन तक पहुंचाने पर जोर दिया। साथ ही चेतावनी दी कि नियमित टीकाकरण के दौरान कोई भी बच्चा बीमारियों से बचाव के लिए लगाए जाने वाले टीके से वंचित नहीं होना चाहिए। इसके लिए उन्होंने सभी एएनएम को टीकाकरण का विशेष रजिस्टर बनाने का निर्देश दिया।


प्रशिक्षण के दौरान विश्व स्वास्थ्य संगठन के एसएमओ डॉ.संदीप पाटिल, डॉ.हामिद, राजीव रंजन ने ब्लॉक स्तरीय ट्रेनरों को प्रशिक्षित किया। जो 22 व 23 मई को ब्लॉक स्तर पर होने वाले प्रशिक्षण के दौरान एएनएम, सुपरवाइजर व अन्य को टीकाकरण के बारे में जानकारी देंगे। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार मिश्रा, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ.पीपी राय, डॉ.सौरभ द्विवेदी, राजेश शर्मा, मान बहादुर, राजेश मिश्रा, डॉ. शैलेन्द्र मणि ओझा, डॉ.एम डब्लू खान, डॉ.प्रशांत अस्थाना, डॉ.एके अग्रहरि, डॉ.सुबोध चन्द्रा, डॉ.अमित उपाध्याय के साथ सभी ब्लॉकों के बीपीएम व वैक्सीन का रख रखाव करने वाले शामिल रहे। 
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned