पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़, दारोगा व बदमाश घायल

डेढ़ माह पूर्व कोतवाली के डिड़ई चौकी क्षेत्र में स्थित एक ग्राहक सेवा केंद्र में दिनदहाड़े घुस कर की गई

सिद्धार्थनगर. यूपी के सिद्धार्थनगर के बांसी कोतवाली पुलिस व बाइक सवार दो बदमाशों के साथ गुरुवार की भोर में मुठभेड़ हो गई। जिसमें एक दरोगा व एक बदमाश को गोली लग गई। दोनों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। बदमाश के दाएं पैर में व दरोगा के बाएं हाथ में गोली लगी है। पकड़े गए बदमाशों मे एक पर एक दर्जन मुकदमें दर्ज हैं। डेढ़ माह पूर्व कोतवाली के डिड़ई चौकी क्षेत्र में स्थित एक ग्राहक सेवा केंद्र में दिनदहाड़े घुस कर की गई। लूट में भी दौनों का हाथ होना बताया जा रहा है।

दरअसल, कोतवाल शैलेश कुमार सिंह, डिड़ई चौकी इंचार्ज भानु प्रताप सिंह व एसआई अजय कुमार सिंह अपने आधा दर्जन हमराहियों के साथ बांसी-मेहदावल मार्ग स्थित देवरिया चौराहे पर भोर में जांच कर रहे थे। इसी बीच बेलौहा की ओर से एक बाइक पर दो लोग आते दिखाइ दिए। एसआई अजय सिंह सड़क के बीच पहुंचकर उन्हें रोकने की कोशिश की। रुकते ही पीछे बैठे एक बदमाश ने तमंचे से फायर कर दिया। गोली एसआई के बाएं हाथ के बांह को छीलते हुए निकल गई। पुलिस की ओर से की गई जवाबी कार्रवाई में बाइक के पीछे बैठे बदमाश अजय सिंह के दाएं पैर में भी गोली लग गई। अंत में पुलिस ने दोनों को दबोच लिया।

लूट की वारदात में शामिल है बदमाश
पकड़े गए बदमाशों में अजय सिंह पुत्र अंबिका सिंह निवासी संतकबीरनगर जनपद के थाना मेहदावल की चौकी बनकसिया स्थित गांव भरथुवा का निवासी है। इस पर मेहदावल व इटवा थाने में हत्या के प्रयास, लूट व चोरी के करीब एक दर्जन मुकदमें पंजीकृत हैं। दूसरे बदमाश का नाम उमेश यादव उर्फ बबलू पुत्र सूर्य चंद्र है। वह बस्ती जनपद के कप्तानगंज थाना क्षेत्र स्थित गांव कटरा खुर्द का निवासी है। घटना की सूचना पर पुलिस अधीक्षक भी बांसी पीएचसी पर पहुंचे और घायल दारोगा अजय सिंह का कुशलक्षेम जाना। उन्होंने घायल बदमाश से भी इलाज के दौरान पूछताछ की जिसमें डिड़ई चौकी क्षेत्र में हुई लूट की घटना में शामिल होने की बात उसने स्‍वीकार किया।

बता दें कि कोतवाली के डिड़ई चौकी क्षेत्र स्थित सुकरौली-कबरा चौराहे पर स्थापित भारतीय स्टेट बैंक के ग्राहक सेवा केंद्र से बीते 10 अक्टूबर को दिन में करीब साढ़े 11 बजे सेवा केंद्र के स्वामी को तमंचा सटाकर 59 हजार की लूट कर लिए थे।

sarveshwari Mishra Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned