अब हाईटेक दिखेंगे प्राइमरी स्कूल व आंगनबाड़ी केन्द्र

अब हाईटेक दिखेंगे प्राइमरी स्कूल व आंगनबाड़ी केन्द्र
Aaganwadi Center

परिषदीय विद्यालय व आंगनबाड़ी केन्द्रों पर लगेंगे टायल्स, छात्रों को बैठने में नहीं होगी परेशानी

सिद्धार्थनगर. अब जिले के परिषदीय विद्यालय को हाईटेक करने की प्रक्रिया शुरू होेने वाली है। विद्यालयों में सफाई व्यवस्था दुरूस्त करने के साथ सभी विद्यालयों में टाइल्स लगाया जाएगा। जिससे बच्चे गन्दगी का शिकार न हों। इसके अलावा आंगनबाड़ी केन्द्रों पर भी टाइल्स लगाया जाएगा। उन विद्यालयों पर यह व्यवस्था नहीं होगी जहां पर विद्यालयों में बच्चों के बैठने के लिए कुर्सी मेज का इंतजाम है।


परिषदीय विद्यालयों को हाईटेक बनाने का इंतजाम किया जा रहा है। सभी विद्यालयों में क्रियाशील शौचालय के साथ ही बिजली, पानी, पंखा आदि का इंतजाम किया गया है। लेकिन विद्यालयों में बच्चों के जमीन पर बैठने का ही इंतजाम है। जिससे बच्चे गन्दगी का शिकार होते है। ऐसे में इस समस्या से छुटकारा दिलाने के लिए अब सभी परिषदीय विद्यालयों व आंगनबाड़ी केन्द्रों में टाइल्स लगाया जाएगा। जिससे कि बच्चों को परेशानी न हो और स्कूल टाइम में गन्दगी का शिकार न हो सकें।

यह भी पढ़ें:
सीएम योगी ने कहा नई तकनीक से किसानों की आय करेंगे दोगुनी


ऐसा इसलिए भी किया जा रहा कि परिषदीय विद्यालयों की तरफ बच्चों व उनके अभिभावकों का आकर्षण बढे़गा। साथ ही शिक्षा की गुणवत्ता भी सुधरेगी। उन विद्यालयों में टाइल्स नही लगाया जाएगा जहां पर बच्चों के बैठने के लिए कुसी आदि की व्यवस्था पहले से ही है। फिर भी विद्यालय प्रबंध समिति के निर्णय के आधार कार्य कराए जाएंगे। यह कार्य ग्राम पंचायत की 14वां वित्त आयोग से कराया जाएगा। इसके लिए सभी ग्राम पंचायत अधिकारियों को प्रस्ताव तैयार कर विद्यालयों की फिजा बदलने का काम किया जाएगा।


इस सम्बंध में डीएम ने जिम्मेदारों का निर्देश देते हुए कहा है कि यह समय समय से पूरा हो जाना चाहिए। जिससे कि बच्चों को किसी भी प्रकार की परेशानी न होने पाए। इस व्यवस्था के साथ ही जिले के सभी परिषदीय विद्यालय हाईटेक हो जांएगे। जो प्राइवेट विद्यालयों को टक्कर देने का काम करेंगे। साथ ही विद्यालय की दशा सुधरने के बाद विद्यालयों में बच्चों की संख्या भी बढेगी।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned