यूपी में नसबन्दी के लिये योगी आदित्यनाथ सरकार का सबसे बड़ा ऐलान

यूपी में नसबन्दी के लिये योगी आदित्यनाथ सरकार का सबसे बड़ा ऐलान
Family Planing new Plan in UP

अब नसबंदी कराने पर यूपी सरकार ने बढ़ायी प्रोत्साहन राशि, महिलाओं भी मिलेंगे इतने रुपये।

सिद्धार्थनगर. जनसंख्या नियंत्रण के लिए चलाए जा रहे कार्यक्रमों को प्रभावी बनाने के लिए सरकार ने योजनाओं की प्रोत्साहन राशि में बढोत्तरी की है। अब महिलाओं के नसबन्दी कराने पर 1400 की जगह दो हजार रूपए दिए जाएंगे वहीं पुरूष के नसबन्दी कराने पर दो हजार की जगह तीन हजार रूपए दिए जाएंगे। जबकि प्रेरक को अब दो सौ की जगह तीन सौ रूपए दिए जाएंगे।




जनसंख्या नियंत्रण के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत परिवार नियोजन के लिए कई कार्यक्रम चलाए जा रहे है। जिसमें गर्भ को रोकने के लिए विविध उपायों को अपनाने के साथ ही स्थायी उपाय नसबन्दी है। योजना के तहत महिला व पुरूष दोनों की नसबन्दी कराई जानी है। अभी तक महिलाओं को नसबन्दी कराने पर 1400 रूपए प्रोत्साहन राशि के रूप में दिया जाता था। लेकिन अब यह राशि इस वर्ष से बढ़ाकर दो हजार रूपए कर दी है।




इसी तरह से पुरूष नसबन्दी को प्रोत्साहित करने के लिए नसबन्दी कराने वाले को दिए जाने वाले दो हजार रूपए की जगह अब तीन हजार रूपए दिए जाएंगे। साथ ही नसबन्दी के लिए प्रेरित करने वालों को महिला को नसबन्दी के लिए प्रेरित करने पर पहले 200 रूपए दिए जाते थे अब यह राशि बढ़ाकर 300 रूपया कर दिया गया है इसी तरह से पुरूष नसबन्दी के लिए प्रेरित करने वाले को 400 रूपए दिए जाएंगे। प्रसव के पश्चात नसबन्दी कराने वाली महिला को 22सौ रूपए की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।




इसके अलावा नसबन्दी कर ने वाले सर्जन की भी राशि बढ़ा दी गई है अब उन्हें 150 रूपए की जगह 200 रूपए दिए जाएंगे। एक महिला नसबन्दी पर सरकार तीन हजार रूपए व पुरूष नसबन्दी पर चार हजार रूपए क खर्च किए जाएंगे। इसके साथ ही विविध माध्यमों से भी लोगों को परिवार नियोजन के उपायों को अपनाने के लिए पे्ररित किया जा रहा है। योजना के तहत गर्भनिरोधक गोलियों का भी वितरण किया जाता है। 




ये भी परिवार नियोजन के अस्थायी उपाय
परिवार नियोजन के लिए नसबन्दी के अलावा और भी कई उपाय है जिनको अपनाकर परिवार नियोजन का हिस्सा बना जा सकता है। जिसमें गर्भ निरोधक गोलियों का इस्तेमाल, कण्डोम, आईयूसीडी, पीपीआईयूसीडी को अपनाकर जनसंख्या नियंत्रण में भागीदार बना जा सकता है। गर्भनिरोधक गोली, कण्डोम आदि का वितरण आशाओं के माध्यम से गांवों में योग्य दम्पत्तियों के पास तक कराया जाता है। इसके अलावा दो बच्चों के अन्तर रखने वाले परिवारों को प्रोत्साहित करने के साथ ही इसके लिए प्रेरित करने वाली आशाओं को भी प्रोत्साहन राशि प्रदान किया जाता है।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned