बाहर से आ रहे श्रमिकों से फर्जी हवलदार बनकर पैसे मांगने वाला आरोपी गिरफ्तार

श्रमिकों को डरा धमका कर शराब पीने के लिए मांग रहा था पैसा, शिकायत पर पुलिस ने किया गिरफ्तार, बहरी थाना क्षेत्र का मामला

By: Manoj Pandey

Published: 05 May 2020, 10:16 PM IST

सीधी/बहरी। आंध्र प्रदेश से लौट रहे श्रमिकों को फर्जी पुलिस हवलदार बनकर डराते धमकाते हुए शराब पीने के लिए पैसे मांगने वाले युवक के विरूद्ध बहरी पुलिस ने विभिन्न धाराओं के तहत अपराध पंजीबद्ध करते हुए गिरफ्तार कर लिया है। पीडि़त श्रमिकों द्वारा रास्ते में परेशान करने व शराब पीने के लिए पुलिस हवलदार बन कर पैसे मांग रहे युवक की शिकायत पीडि़तों ने बहरी थाना में की, जिस पर थाना प्रभारी राम सिंह ने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को मामले की जानकारी दी। जहां पुलिस अधीक्षक आरएस बेलवंशी के निर्देशन व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अंजुलता पटले के मार्गदर्शन में बहरी थाना प्रभारी राम सिंह ने तुरंत पुलिस टीम गठित कर घटनास्थल पर पहुंचकर घेराबंदी कर आरोपी की तलाश शुरू की जहां अपराधी रवि सिंह को कुछ ही घंटे में गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने आरोपी के विरूद्ध भादवि की धारा 419, 420, 341, 384, 327, 188, 269, 270 एवं आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51, महामारी अधिनियम 1897 की धारा 3,4 मध्य प्रदेश पब्लिक हेल्थ एक्ट 1949 की धारा 71 (1)(ए), मोटरयान अधिनियम की धारा-129, 128, 177 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है।
बताया गया कि राहगीर फरियादी राम सागर गोंड पिता राम पति 20 वर्ष साकिन निगाह पनारी थाना ओबरा जिला सोनभद्र की रिपोर्ट पर उक्त अपराध धारा कायम किया गया है। जिसमें 4 मई 2020 को 9 बजे दिन ग्राम देवगांव थाना बहरी को राहगीर रामसागर, दीप नारायण, सौरभ केवट, नन्हेलाल केवट, बबलू केवट 6 लोग आंध्र प्रदेश से वापस लौट रहे थे, जो जिला रीवा के हनुमना में कोरोना का परीक्षण कराने के बाद चेकअप पर्ची लेकर अपने गांव पनारी जिला सोनभद्र उत्तर प्रदेश जा रहे थे। आरोपी रवि सिंह चंदेल पिता राजेंद्र सिंह उम्र 26 वर्ष साकिन देवगांव थाना बहरी इन्हें रोक कर थाना बहरी का हवलदार बताकर थाना जाने हेतु कहने लगा एवं पर्ची मांगा। वह दारु पीने के लिए उनसे पैसे मांगने लगा तथा इनकी पर्ची ले लिया, इसके बाद पैसा नहीं देने पर 3 लोगों को अपने मोटरसाइकिल में बिठाकर पैसा देने के लिए दबाव बनाने हेतु अन्यत्र जगह ले गया। वहीं अपराधी के मुंह में मास्क नहीं लगा पाया गया तथा करोना बीमारी शर्तों का उल्लंघन एवं लॉक डाउन के नियमो का उल्लंघन करने पर अपराध धारा कायम कर विवेचना में लिया गया। बहरी पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया जाकर न्यायालय में प्रस्तुत किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। वहीं पीडि़त राहगीरों को अनुज साहू के सहयोग से थाना बहरी में खाना खिला कर उनके पैतृक गांव की ओर रवाना किया गया। उक्त कार्रवाई में मुख्य रूप से उपनिरीक्षक इंद्राज सिंह, उपनिरीक्षक आकांक्षा पांडेेय, आरक्षक महेंद्र सिंह, रजनीश द्विवेदी, सतीष तिवारी एवं एएसआई पुरुषोत्तम द्विवेदी का विशेष योगदान रहा।

Manoj Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned