scriptAfter the death of the tigress, the cubs became orphaned, wandering hu | बाघिन की मौत के बाद अनाथ हुए शावक, भूखे भटक रहे | Patrika News

बाघिन की मौत के बाद अनाथ हुए शावक, भूखे भटक रहे

चार दिन से नहीं किया भोजन, आठ माह के शावक अभी शिकार के लिए भी नहीं हो पाए हैं सक्षम

सीधी

Published: March 21, 2022 09:18:17 pm

सीधी. संजय दुबरी टाइगर रिजर्व क्षेत्र से गुजरने वाली कटनी-चोपन रेलवे लाइन में मालगाड़ी की टक्कर से घायल होने के बाद असमय काल के गाल में समाने वाली बाघिन टी-18 के चार शावक भूखे भटक रहे हैं। वन क्षेत्र में मां को खोजते शावकों को भूख की चिंता भी नहीं सता रही है। उन्हें अभी भी यह लग रहा है कि मां ही उनके के लिए भोजन की व्यवस्था करेगी।

tiger_cubs.png

महज आठ माह की उम्र होने के कारण वह शिकार में भी दक्ष नहीं हो पाये हैं। उनके भोजन की व्यवस्था के लिए संजय टाइगर रिजर्व प्रबंधन द्वारा एक पड़ा और कुछ बकरे बांधे गए, ताकि वह उनका शिकार करें, लेकिन चार दिन बीत जाने के बाद भी उनके द्वारा शिकार नहीं किया गया। टाइगर रिजर्व प्रबंधन की माने तो बाघिन की मौत के बाद शावकों ने अभी तक कुछ नहीं खाया है। ऐसे में अब शावकों को लेकर टाइगर रिजर्व प्रबंधन भी चिंता में पड़ गया है।

संजय दुबरी टाइगर रिजर्व क्षेत्र से गुजरने वाली कटनी-चोपन रेलवे लाइन में बड़िया गांव में बुधवार की शाम करीब 5.30 बजे रेलवे ट्रैक पार करते समय मालगाड़ी की टक्कर लगने बाघिन टी-18 खाई में गिरकर घायल हो गई थी। सूचना मिलने के बाद संजय दुबरी टाइगर रिजर्व के ट्रेकिंग दल द्वारा डॉक्टरों के टीम की उपस्थिति में घंटों मशक्कत के बाद देर रात करीब 2.30 बजे बाधिन को ट्रैंकुलाइज किया गया था। इसके बाद उसके चोटों का बारीकी से निरीक्षण कर पिंजरे में कैद कर मझौली लाया गया, जहां उपचार के बाद गरुवार को दोपहर करीब 3 बजे उसे बाड़े में छोड़ा गया, जहां शाम करीब 6 बजे उसकी मौत हो गई थी। बाघिन की मौत के बाद उसके चार शावक अनाथ हो गए हैं।

पकड़ में नहीं आ रहे शावक
बाघिन की मौत के बाद अमला लगातार शावकों की निगरानी कर रहा है। शावकों द्वारा शिकार नहीं करने से विभागीय अधिकारी चिंता में हैं। उनके द्वारा जाल के सहारे शावकों को पकड़ने का प्रयास किया गया, लेकिन वह काफी तेजी के साथ भागने में दक्ष होने के कारण पकड़ में नहीं आ रहे हैं। अधिकारियों की माने तो शावक हाथी को देखकर बड़ी तेजी से भागते हैं, ट्रेंकुलाइज भी नहीं कर पा रहे हैं।

बाघ के संपर्क में आने का किया जा रहा इंतजार
शावकों का पिता बाघ टी-26 भी उसी क्षेत्र में भ्रमण कर रहा है। अधिकारी यह मान रहे हैं कि मां की मौत के बाद शावक पिता के संपर्क में आ सकते हैं, यदि ऐसा हो जाता है तो उनके भोजन की व्यवस्था बाघ टी-26 कर देगा, साथ ही वह शिकार में दक्ष भी कर देगा। क्योंकि पूर्व में बाघ-बाघिन और उनके ये चार शावक अक्सर एक साथ दिखाई देते थे, बाघ टी-26 से इन शावकों को किसी प्रकार का खतरा नहीं है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

बुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंमान्यता- इस एक मंत्र के हर अक्षर में छुपा है ऐश्वर्य, समृद्धि और निरोगी काया प्राप्ति का राजराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाVeer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

राष्ट्रीय खेल घोटाला: CBI ने झारखंड के पूर्व खेल मंत्री के आवास पर मारा छापामहंगाई पर आज केंद्र की बड़ी बैठक, एग्री सेस हटाने और सीमेंट के दाम कम करने पर रहेगा जोरPM Modi in Hyderabad: KCR पर मोदी का इशारों में वार, परिवादवाद को बताया लोकतंत्र का दुश्मनUP Budget: युवाओं के रोजगार-व्यापार के लिए Yogi ने बनाया स्पेशल प्लान, जानिए कैसे मिलेगी नौकरी'8 साल, 8 छल, भाजपा सरकार विफल...' के नारे के साथ मोदी सरकार पर कांग्रेस का तंजसुप्रीम कोर्ट ने सेक्स वर्क को भी माना प्रोफेशन, पुलिस नहीं करेगी परेशान, जारी किए निर्देशमोदी सरकार के 8 साल पूरे; नोटबंदी, एयर स्ट्राइक, धारा 370 खत्म करने सहित सरकार के 8 बड़े फैसलेआयकर विभाग के कर्मचारी ने तीन- तीन लाख रुपए में बेचे कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के पेपर, शिक्षिका पत्नी के खाते में किए ट्रांसफर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.