कृषि वैज्ञानिक ने युवक के साथ की मारपीट

कृषि वैज्ञानिक ने युवक के साथ की मारपीट, जांच के बाद एएसपी ने कृषि वैज्ञानिक को माना दोषी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के निर्देश के बाद भी अजाक थाना नहीं कर रहा कार्रवाई

By: op pathak

Updated: 27 Mar 2020, 11:30 PM IST

सीधी। कृषि विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक के द्वारा एक युवक के साथ गाली-गलौज व मारपीट की गई। पीडि़त की शिकायत पर पुलिस अधीक्षक के द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को जांच सौंपी गई। समस्त साक्ष्यों का बयान लेने के बाद एएसपी के द्वारा मारपीट की घटना को प्रमाणित बताया गया वहीं अजाक थाना पुलिस को कार्रवाई के निर्देश दिए गए, किंतु आज दिनांक तक वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक डॉ. महेंद्र सिंह के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है।
बताया गया कि कृषि वैज्ञानिक डॉ. महेंद्र सिंह के द्वारा ४ अप्रैल २०१९ को जीतेंद्र कुमार बसोर के साथ गाली-गलौज करते हुए मारपीट की गई थी, यह मारपीट उधार के लिए हुए पैसे न चुकाने को लेकर की गई थी। जिसकी शिकायत पीडि़त के द्वारा अजाक थाना मे की गई किंतु पुलिस के द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई, जिस पर पीडि़त के द्वारा पुलिस अधीक्षक को आवेदन दिया गया। जिस पर पुलिस अधीक्षक ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को जांच के लिए आवेदन सौंपा गया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अंजुलता पटले के द्वारा जांच की गई जांच मे मेडिकल रिपोर्ट व साक्ष्यों का कथन लिया गया, जिस पर शिकायत सत्य पाई गई, अजाक थाना पुलिस को कार्रवाई के निर्देश दिए गए, किंतु एएसपी के निर्देश के बाद भी कार्रवाई नहीं हो पाई।
आमरण अनसन के लिए मांगी गई अनुमति-
दोषी के खिलाफ किसी तरह की कार्रवाई न होने पर पीडि़त अपने परिवार के साथ अंबेडकर की प्रतिमा के समक्ष आमरण अनसन करने का निर्णय लिया गया है। पीडि़त जीतेंद्र कुमार बसोर के द्वारा कलेक्टर को आवेदन देकर आमरण अनसन के लिए अनुमति की मांग की गई है।

op pathak Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned