Sidhi bus accident: सिसक-सिसक कर बिता दिए 5 दिन, नहीं मिला घर का चिराग

-एनडीआरएफ और एसडीआरएफ टीमें जुटी हैं तलाश में

By: Ajay Chaturvedi

Updated: 20 Feb 2021, 02:57 PM IST

सीधी. Sidhi bus accident को पांच दिन गुजर गए। इस बीच एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमों ने बड़ी मशक्कत के बाद 53 शव तो निकाल लिए। लेकिन नहीं मिला तो कुकरीझर निवासी अरविंद विश्वकर्मा। महज 22 साल का युवक, घर का चिराग कहां चला गया, नहर के किस कोने छिप गया, आसमान खा गया या धरती निगल गई। कुछ पता नहीं चल रहा। ऐसे में परिवार वालों का बुरा हाल है। मां-पिता के आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे। इस बीच एनडीआरएफ व एसडीआरएफ टीमों ने शनिवार को फिर से सुरंग में अरविंद की तलाश शुरू कर दी है।

एनडीआरएफ व एसडीआरएफ टीमों ने शुक्रवार को भी सुरंग में तलाशी की थी, लेकिन अरविंद का कहीं सुराग नहीं लगा। शुक्रवार को टनल में पानी के प्रेशर के बाद दो युवकों के शव मिले पर अरविंद का कहीं पता नहीं चल सका। एनडीआरएफ टीम के अधिकारी मिथलेश का कहना है कि शुक्रवार को जो दो शव मिले वो दोनों सुरंग में फंसे थे। ऐसे में शनिवार को फिर से इस चार किमी लंबी सुरंग में तलाश शुरू की गई है। टीम अबकी कांटा भी डाल रही है, ताकि शव अगर गहराई में फंसा हो तो भी मिल जाए।

बता दें कि कुकरीझर निवासी अरविंद बोदरहवा सिहावल निवासी अपनी बुआ की बेटी यशोदा विश्वकर्मा को एएनएम की परीक्षा दिलाने के लिए उस बस में सवार हुआ था, जो दुर्घटना की शिकार हो गई। दुर्घटना में यशोदा की भी मौत हो गई। पर उसका शव 16 फरवरी को ही मिल गया था। लेकिन अरविंद का कहीं पता नहीं चल रहा जबकि रेस्क्यू में लगीं टीमें तीन बार सुरंग में जा चुकी हैं।

अरविंद के पिता विश्वनाथ और मां आशा विश्वकर्मा के चार संतानों में अरविंद सबसे बड़ा है। पिता जहां खड़वा में सुरक्षा गार्ड हैं। वहीं अरविंद सीधी में कंप्यूटर का ऑनलाइन काम करता रहा। उसके तीनों भाई अभी पढ़ाई कर रहे हैं। हादसे के बाद उसके लापता होने के बाद से परिजनों का हर पल रोते-बिलखते हुए गुजर रहा है। मां आशा बेटे के लापता होने के बाद से बदहवास सी हो गई है। खंडवा से पिता भी लौट आए हैं। परिवार पिछले पांच दिनों से बघवार से छुहिया टनल तक इस उम्मीद में जा रहा है कि शायद उनका लाड़ला मिल जाए। परिजनों के मुताबिक अरविंद की इसी साल शादी होनी थी।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned