Bharat Bandh Live Upadates: स्कूल-कॉलेज पेट्रोल पंप बंद, 30 किमी. बाइक रैली निकालकर सवर्ण ने दिखाई एकता

Bharat Bandh Live Upadates: स्कूल-कॉलेज पेट्रोल पंप बंद, 30 किमी. बाइक रैली निकालकर सवर्ण ने दिखाई एकता

suresh mishra | Publish: Sep, 06 2018 05:06:07 PM (IST) Sidhi, Madhya Pradesh, India

स्कूल कॉलेज व व्यापारिक प्रतिष्ठानों के साथ पेट्रोल पंप भी रहे बंद, बसों के थमे रहे पहिए, टिकरी से मड़वास तक निकाली गई बाइक रैली

सीधी। एससी-एसटी एक्ट के विरोध में भारत बंद का सीधी जिले में व्यापक असर रहा। कलेक्टर के आदेश पर जिले के समस्त शासकीय व निजी स्कूलों के साथ केंद्रीय विद्यालय में भी अवकाश रहा। व्यापारियों ने अपने व्यापारिक प्रतिष्ठान पूरी तरह से बंद रखे। वाहन संचालकों ने रूट में वाहन नहीं चलाए। पेट्रोल पंप संचालकों ने कलेक्टर से अनुमति लेकर पेट्रोल पंप बंद रखे। बंद का आह्वान सुबह 10 बजे से ५ बजे तक किया गया था, लेकिन यहां सुबह से ही बसें नहीं चली और न ही दुकानें खुली। दफ्तर तो खुले रहे लेकिन वहां भी अवकाश जैसा ही माहौल रहा।

जिला मुख्यालय में वीथिका भवन परिषर में सपाक्स एवं अधिवक्ता संघ के संयुक्त तत्वाधान में सभा का आयोजन किया गया। जहां सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा। इसके साथ ही शहर के चौराहों में फायर ब्रिगेड व पुलिस की टुकडिय़ां मौजूद रहीं। इसके साथ पुलिस की मोबाइल टीम शहर में सायरन मारते भ्रमण करती रही। जिले में कलेक्टर द्वारा सुरक्षा के मद्देजनर ४ सितंबर से 10 सितंबर तक धारा 144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किए गए हैं।

निकाली गई 30 किमी बाइक रैली
भले ही जिले में धारा 144 लागू थी लेकिन इसके बावजूद जिले के मझौली विकासखंड में भारत बंद को लेकर सुबह 10 बजे से टिकरी से मझौली तक आरक्षण विरोधी लोगों द्वारा करीब 30 किमी. बाइक रैली निकाली गई, जिसमें करीब एक हजार की संख्या में बाइक में हजारों की संख्या में लोग शामिल रहे। बताया गया कि इस रैली भाजपा व कांग्रेस पार्टी के लोग भी शामिल होकर एससी एसटी एक्ट का विरोध कर रहे थे। टिकरी से शुरू हुई बाइक रैली नारेबाजी करते हुए महखोर चौराहा, मड़वास, जोगी पहाड़ी, खड़ौरा होते हुए मझौली पहुंची, जहां सभी बाजार क्षेत्र में बाइकें खड़ी कर पैदल मार्च करते हुए मझौली तहसील पहंचे जहां का सभा का आयोजन किया गया। समाचार लिखे जाने तक सभा जारी थी।

Ad Block is Banned