जिला अस्पताल पहुंचे कलेक्टर, अव्यवस्थाओं पर लगाई फटकार

जिला अस्पताल पहुंचे कलेक्टर, अव्यवस्थाओं पर लगाई फटकार
Collector reached district hospital, reprimanded on dislocations

Manoj Kumar Pandey | Updated: 11 Oct 2019, 12:48:32 PM (IST) Sidhi, Sidhi, Madhya Pradesh, India

गंदगी देख भड़के, सफाई संविदाकार पर कार्रवाई के दिए निर्देश, लेवर रूम की छत का प्लास्टर गिरने की सूचना पर जिला अस्पताल पहुंचे थे कलेक्टर, छत मरम्मतीकरण के भी दिए गए निर्देश

सीधी। जिला अस्पताल की बदहाल व्यवस्था सुधरने का नाम नहीं ले रही है। लेवर वार्ड की जर्जर छत के मरम्मतीकरण के निर्देश कलेक्टर द्वारा पूर्व में ही दिए गए थे, लेकिन जिम्मेदारों ने इस पर ध्यान नहीं दिया, जिसका परिणाम यह निकला कि बुधवार को अचान लेवर रूम के छत की प्लास्टर मरीजों पर गिरी और चार लोग घायल हो गए। घटना की जानकारी कलेक्टर रवींद्र कुमार चौधरी को होने पर वह देर शाम जिला अस्पताल पहुंचे। जिला अस्पताल के निरीक्षण के दौरान वहां व्याप्त गंदगी देखकर उन्होंनें जिम्मेदार अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाते हुए सफाई संविदाकार के सुपरवाइजर कड़े लहजे में कहा कि सफाई व्यवस्था में सुधार न होने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। व्यवस्थाओं से असंतुष्ट कलेक्टर ने अस्पताल प्रबंधन के अधिकारियों को भी फटकार लगाई।
कलेक्टर रवींद्र कुमार चौधरी ने कहा कि अस्पताल के अंदर व्यवस्थाओं को चाक चौबंद बनाना अस्पताल प्रबंधन के अधिकारियों की जिम्मेदारी है। यदि इसमें किसी तरह की दिक्कतें आती है तो उनसे संपर्क कर आवश्यक मदद ली जा सकती है। कलेक्टर चौधरी ने अस्पताल भवन की जर्जर छतों के प्लास्टर गिरने और लोगों के घायल होने की घटना पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि व्यवस्था से जुड़े अधिकारियों को अस्पताल के भवन के अंदर सुरक्षा व्यवस्थाओं को भी सुनिश्चित करना चाहिए। यदि किसी भी कक्ष में या भवन के अंदर कोई जोखिम का खतरा है तो उसके संबंध में उन्हे समय रहते आवश्यक पहल करनी चाहिए। जिससे इस तरह की घटनाओं की पुनरावृत्ति आगे न हो। कलेक्टर चौधरी ने इस दौरान सीएमएचओ, प्रभारी सिविल सर्जन से व्यवस्थाओं के संबंध में विस्तार से जानकारी ली। साथ ही निर्देश दिए कि समूचे अस्पताल के भवन की स्थिति के संबंध में इंजीनियरों को बुलाकर आवश्यक जानकारी हांसिल करें, जहां सुधार की जरूरत है वहां जल्द से जल्द सुधार कार्य कराएं। उन्होंने हादसे में घायल मरीजों से भी मुलाकात की।
गंदगी से पटे मिले शौंचालय-
जिला अस्पताल के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर रवींद्र कुमार चौधरी ने वार्डो के साथ ही शौंचालयों की स्थिति का भी जायजा लिया। इस दौरान मेल सर्जिकल वार्ड के शौंचालय गंदगी से पटे मिले। स्थिति पर नाराजगी जाहिर करते हुए कलेक्टर चौधरी ने जिला अस्पताल की सफाई व्यवस्था के सुपरवाईजर को बुलवाकर कड़ी फटकार लगाते हुए तत्काल सफाई व्यवस्था दुरूस्त करने के निर्देश दिए। साथ ही हिदायत दिया कि यदि इस तरह की स्थिति आगे नजर आई तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
हाल ही में किया गया है सफाई व सिक्योरिटी का टेंडर-
जिला अस्पताल की सफाई व्यवस्था एक बड़ी चुनौती के रूप में सामने आ रही है। जिला अस्पताल के सफाई एवं सिक्योरिटी का हाल ही में टेंडर के माध्यम से संविदाकार बदला गया है। पुराने संविदाकार की टेंडर इसलिए निरस्त कर दिया गया था, क्योंकि उसके द्वारा सफाई व्यवस्था दुरूस्त नहीं रखी जा रही थी, तत्कालीन कलेक्टर अभिषेक ङ्क्षसह के सख्त हिदायत के बाद भी जब सफाई व्यवस्था में सुधार नहीं हुआ तो उनके द्वारा सफाई व सिक्योरिटी का टेंडर निरस्त कर दिया गया था। लेकिन अब नए संविदाकार द्वारा सफाई को लेकर लापरवाही की जा रही है।
सुधारी जाएंगी व्यवस्थाएं-
जिला अस्पताल के छत की प्लास्टर गिरने की घटना चिंतनीय है, अस्पताल प्रबंधन को निर्देश दिए गए हैं कि ऐसी छतो का चिन्हांकन कर तत्काल उसका मरम्मतीकरण कराएं। अस्पताल के अन्य कक्षों एवं जगहों का निरीक्षण करने पर दो स्थानों पर और भी प्लास्टर की स्थिति कमजोर नजर आई है, जिसे दो-तीन दिनो के अंदर ही सुधार करा दिया जाएगा। जहां तक सफाई व्यवस्था की बात है तो इसमें भी जल्द ही सुधार नजर आएगा।
रवींद्र कुमार चौधरी, कलेक्टर सीधी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned