संकट के साथी...जीवनरक्षक दवाओं के साथ 24 घंटे तैनात रहते हैं दवा व्यापारी

मेडिकल स्टोर संचालक जान जोखिम में डाल खोल रहे नियमित दुकान, ताकि कोई दवा के अभाव में न हो परेशान, बाहर से भी दवा मंगाकर करा रहे उपलब्ध

By: Manoj Pandey

Published: 18 Apr 2020, 09:18 PM IST

सीधी। कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण से बचाव हेतु देश भर में घोषित लॉक डाउन के दौरान कई ऐसे संकट के साथी हैं जो अपनी जान जोखिम में डालकर लोगों की सेवा के लिए तत्पर हैं। ऐसे ही संकट के साथियों में जीवनरक्षक दवाओं के साथ 24 घंटे तैनात रहने वाले दवा व्यापारी भी हैं। मेडिकल स्टोर संचालक जान जोखिम में डाल नियमित रूप से दुकान खोलते हुए लोगों की सेवा कर रहे हैं, ताकि कोई दवा के अभाव में परेशान न हों। आज हम शहर के कुछ ऐसे दवा व्यापारियों की कहानी लेकर आए हैं जो लोगों की सेवा करने के लिए चौबीस घंटे जीवन रक्षक दवाओं के साथ तैनात हैं।
-------
दिलीप शेखर गुप्ता-
........शहर के अस्पताल तिराहे में मेडिकल दुकान संचालित करने वाले रामा मेडिकल स्टोर के संचालक दिलीप शेखर गुप्ता कहते हैं कि दवा आवश्यक सेवाओं में शामिल है। लॉक डाउन में भी दवा दुकानों को छूट दी गई है। ऐसे में हम शासन द्वारा निर्धारित मापदंडो का पालन करते हुए दुकान संचालित कर रहे हैं ताकि दवा के लिए किसी को परेशान न होना पड़े।
अवनीश गुप्ता-
.........शहर के अस्पताल तिराहे में मेडिकल दुकान संचालित करने वाले मनोज मेडिकल स्टोर के संचालक अवनीश गुप्ता कहते हैं कि लॉक डाउन के दौरान एक भी दिन हमने अपनी दुकान बंद नहीं की। लोगों को होम डिलेवरी के माध्यम से भी आवश्यक दवा उपलब्ध करा रहे हैं। इन दिनों पहले से अधिक समय तक दुकान खोलते हैं ताकि किसी को दवा के लिए भटकना न पड़े।
उदय गुप्ता-
.......शहर के गांधी चौक में मेडिकल दुकान संचालित करने वाले गंगोत्री मेडिकल स्टोर के संचालक उदय गुप्ता कहते हैं कि लॉक डाउन में हर कोई परेशान है। ऐसे में यदि कोई ऐसा व्यक्ति आता है जिससे के पास पैसे नहीं रहते हैं तो उसे उधारी में दवा भी उपलब्ध करा रहे हैं। हमारा प्रयाश है कि कोई दवा के अभाव में परेशान न हो, यह समय सबकी सेवा का है, पैसा तो बाद में भी कमाया जा सकता है।
भरत सिंह-
.........शहर के पृथ्वीराज कांपलेक्स में मेडिकल दुकान संचालित करने वाले न्यू संजय ड्रग हाउस के संचालक भरत ङ्क्षसह कहते हैं कि इन दिनों दवा ग्राहकों के लिए होम डिलेवरी सुविधा के साथ ही ऑन लाइन भुगतान की सुविधा दे रहे हैं। यदि कोई ऐसा गरीब आता है जिसके पास पैसे कम पड़े तो उसे दवा से वंचित नहीं किया जाता है। हमारा प्रयाश है कि संकट के इस दौर में कोई दवा के लिए परेशान न हो।
अजय कुमार श्रीवास्तव-
........शहर के अस्पताल तिराहे में मेडिकल स्टोर की दुकान संचालित करने वाले अजय कुमार श्रीवास्तव कहते हैं कि कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण देश कठिन दौर से गुजर रहा है। ऐसे में हमार कर्तव्य केवल और मात्र केवल सेवा का है। कोई दवा के अभाव में परेशान न हो इसलिए सेवा भाव से दुकान संचालित कर रहे हैं। गरीबों की मदद कर रहे हैं और ग्राहकों को हर तरह की सुविधा दे रहे हैं।
वेद प्रकाश गुप्ता-
........शहर के स्टेट बैंक मुख्य शाखा मार्ग में मेडिकल एजेंसी संचालित करने वाले वेद फारमेसिस के संचालक वेद प्रकाश गुप्ता कहते हैं कि संकट के इस दौर में दवा आवश्यक सेवा में शामिल है। हमारा प्रयाश है कि दवाओं की किसी तरह से कमी न पड़े, इसलिए ऐसी दवाएं भी उपलब्ध करा रहे हैं जो लोगों को बाहर से लानी पड़ती थी। ग्राहकों की मांग पर सतना, रीवा व बनारस के चिकित्सकों द्वारा लिखी जाने वाली दवाओं की उपलब्धता का हमारा प्रयाश रहता है।

Manoj Pandey
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned