दिहाड़ी मजदूर ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, भाई ने कहा नहीं था खाद्यान्न इसलिए की आत्महत्या

पुलिस चौकी सेमरिया अंतर्गत झगरहा गांव की घटना

By: Manoj Pandey

Updated: 18 Apr 2020, 09:50 PM IST

सीधी। जनपद पंचायत सीधी क्षेत्र के पुलिस चौकी सेमरिया अंतर्गत झगरहा निवासी दिहाड़ी मजदूर किशोरी पिता देमार रावत 34 वर्ष ने बुधवार की दोपहर अपने घर के अंदर ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। परिजनों से सूचना मिलने पर मौके पर पहुुंची सेमरिया पुलिस द्वारा शव को फंदे से निकलवाकर पंचनामा उपरांत शव का पीएम करवाने के बाद परिजनों को सौंपते हुए मर्ग कायम कर जांच में ले लिया है। इधर दाह संस्कार करने के बाद मृतक के बड़े भाई ने स्थानीय मीडियाकर्मियों को बयान दिया कि उसके छोटे-छोटे बच्चे हैं, घर में खाने के लिए कुछ नहीं था, इसलिए उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। बताया गया कि उसके पत्नी की पहले ही मौत हो चुकी है। इधर पुलिस द्वारा पीएम रिपोर्ट आने व जांच पूरी होने के बाद ही आत्महत्या का असली कारण पता चलने की बात की जा रही है। वहीं ग्राम पंचायत के शासकीय उचित मूल्य की दुकान के विक्रेता द्वारा पत्रिका से चर्चा के दौरान बताया गया कि चार दिन पूर्व ही उसे 25 किग्रा खाद्यान्न उपलब्ध कराया गया था।
खाय बिगुर फांसी लगाया है-
.......किशोरी ने खाय बिगुर फांसी लगाया है। उसके छोटे-छोटे तीन बच्चे हैं।
जमाहिर रावत, मृतक का बड़ा भाई
जांच के बाद पता चलेगा असली कारण-
किशोरी के द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या की सूचना मिलने पर पुलिस टीम ने मौके पर पहुंचकर पंचनामा कार्रवाई के बाद पीएम करवाने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया था, जांच कार्रवाई के दौरान भूखे मरने की स्थिति संबंधी बात किसी के द्वारा नहीं की गई। मौत की असली वजह पीएम रिपोर्ट आने व जांच पूरी होने के बाद ही स्पष्ट हो पाएगी।
सुरसरी प्रसाद मिश्रा, चौकी प्रभारी सेमरिया
चार दिन पहले दिया गया था खाद्यान्न-
शासन द्वारा जारी दिशा निर्देश के तहत किशोरी रावत को 11 अप्रैल को 25 किलो खाद्यान्न मेरे द्वारा उपलब्ध कराया गया है। वहीं उसके बड़े भाई जमाहिर रावत को 15 किग्रा तथा उसकी मां बुटनी को 5 किलो पर्ची के अनुसार खाद्यान्न के रूप में चावल दिया गया है।
रिंकू सिंह, विक्रेता शासकीय उचित मूल्य की दुकान झगरहा

Manoj Pandey
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned