चार वर्ष बाद भी नहीं शुरू हो पाई नल जल योजना

चार वर्ष बाद भी नहीं शुरू हो पाई नल जल योजना
sidhi news

Manoj Kumar Pandey | Updated: 12 Jun 2019, 09:53:23 PM (IST) Sidhi, Sidhi, Madhya Pradesh, India

भुईमाड़ में शुरू हुई पानी की किल्लत, शो-पीस बनी पानी की टंकी, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकीय विभाग द्वारा ट्रायल के रूप में किया गया था चालू माह भर चलने के बाद हो गई बंद, ग्राम पंचायत को भी नहीं किया गया हैंडओवर, खुली पाइप लाईन भी लोगों के लिए बनी परेशानी का सवब

सीधी। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकीय विभाग द्वारा ग्रामीण अंचलों में पेयजल की समस्या से निजात हेतु लाखों की लागत से नल जल योजनाएं तो बना दी गई हैं, लेकिन विभागीय लापरवाही से ज्यादातर योजनाएं ठप पड़ी हुई हैं, लिहाजा ग्राम पंचायतों में बनाई गई नल जल योजनाओं की टंकी व पाइप लाइन महज शो-पीस बनकर रह गई हैं।
कुछ इसी प्रकार का हाल जिले के आदिवासी जनपद पंचायत कुसमी अंतर्गत ग्राम पंचायत भुईमाड़ में करीब चार वर्ष पूर्व बनाई गई नल जल योजना का है। लाखों की लागत से बनाई गई यह नल जल योजना महज शो-पीस बनी हुई है। स्थानीय ग्रामीणों की बात माने तो करीब चार वर्ष पूर्व जब यह नल जल योजना बनकर तैयार हुई थी, तब ट्रायल बतौर करीब एक से दो माह तक योजना को चालू किया गया था, उसके बाद से यह योजना पूरी तरह से ठप पड़ी हुई है। स्थानीय लोगों ने बताया कि गर्मी के मौषम में कुएं सूख जाने के साथ ही हैंडपंप भी पानी की जगह हवा उगलने लगेे हैं, ऐसी स्थिति में पानी की किल्लत शुरू हो गई है, और लोगों की निगाह ग्राम पंचायत में बनी पानी की टंकी पर टिकी है, लेकिन यह पानी की टंकी महज शो-पीस बनकर रह गई है। ग्रामीणों ने जिले के जिम्मेदार अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराते हुए बंद पड़ी नल जल योजना को अतिशीघ्र चालू कराए जाने की मांग की है।
पंचायत को नहीं किया गया हैंडओवर-
ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि लोक स्वास्थ्य यांत्रिकीय विभाग द्वारा ग्राम पंचायतों मेें स्थापित की गई नल जल योजनाओं को पूर्ण करने के बाद करीब एक वर्ष तक उसका संचालन संधारण संबंधित ठेकेदार के माध्यम से कराया जाता है, इसके बाद योजनाओं के संचालन की जिम्मेदारी संबंधित ग्राम पंचायत को दे दी जाती है, लेकिन ग्राम पंचायत भुईमाड़ में स्थापित की गई नल जल योजना को स्थापित हुए करीब चार वर्ष का समय बीत चुका है, और अभी तक इस योजना को ग्राम पंचायत को हैंडओवर नहीं किया गया है।
पाइप लाइन बनी समस्या-
ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि नल जल योजना के तहत ग्राम पंचायत में एक ओव्हर हेड, पंप हाउस के साथ ही घर-घर पानी पहुंचाने के लिए पाइप लाइन भी बिछाई गई है, लेकिन यहां अंडर ग्राउंड पाइप लाइन नहीं बिछाई गई है, बल्कि लोहे की मोटी पाइप घरों के ठीक सामने से बिछा दी गई है, जिससे लोगों को काफी परेशानी हो रही है। खासकर ऐसी स्थिति में जब इस पाइप लाइन के माध्यम से पानी उपलब्ध नहीं हो पा रहा है।
लोगों ने सुनाई समस्या-
............हमारे गांव में पिछले चार वर्ष से नलजल योजना की टंकी व पाइप लाइन शो-पीस बनी हुई है, पाइप लाइन की वजह से बड़ी समस्या हो रही है, जब नल जल योजना चालू ही नहीं होनी है तो यह पाइप लाइन हटा दी जाए।
कबीरदास गुप्ता, स्थानीय ग्रामीण
..........जब नल जल योजना चालू ही नहीं करना थो तो लाखों रूपए शासन के खर्च करने का क्या मतलब, गर्मी के मौषम में पानी किल्लत शुरू हो जाती है, और सभी की निगाह इस पानी की टंकी में टिक जाती है, लेकिन यह पानी की टंकी महज शो-पीस बनकर रह गई है।
अवधेश दीक्षित, स्थानीय ग्रामीण
पंचायत को नहीं किया गया हैंडओवर-
भुईमाड़ में स्थापित की गई नल जल योजना की जिम्मेदारी अभी तक पंचायत को नहीं सौंपी गई है, अब यह संविदाकार की देख रेख में है या फिर पीएचई के हम कह नहीं सकते।
नरेशकली सिंह, सरपंच भुईमाड़

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned