कोरोना के कर्मवीर... दिन रात सेवा देकर लड़ रहे कोरोना के विरूद्ध जंग

ग्रामीण अंचलों में सेवारत स्वास्थ विभाग के इन कर्मवीरों को सलाम

By: Manoj Pandey

Published: 05 Apr 2020, 08:07 PM IST

सीधी। कोरोना वायरस (कोविड-१९) के संक्रमण से बचाव हेतु वैसे तो स्वास्थ विभाग का पूरा अमला जी तोड़ मेहनत कर रहा है। लेकिन इनमें से कुछ स्वास्थ अधिकारी ऐसे हैं जो कार्य के आगे अपनी नींद और भूख तक की चिंता नहीं कर रहे हैं। जिले के कोरोना कर्मवीरों की कहानी में आज हम फिर स्वास्थ विभाग के जिले के ऐसे ही कोरोना के कर्मवीरों की कहानी लेकर आए हैं जो अपनी जान जोखिम में डालकर दूसरों का स्वास्थ परीक्षण कर फील्ड में लगातार सेवाएं देते हुए जनता के रियल हीरो बन गए हैं। जिले की जनता ऐसे कर्मवीरों को सलाम करती है।
------
डॉ.विकट सिंह-
.........सामुदायिक स्वास्थ केंद्र कुसमी अंतर्गत प्राथमिक स्वास्थ केंद्र पोंड़ी में पदस्थ चिकित्सा अधिकारी डॉ.विकट सिंह को ब्लाक रैपिड रिस्पांस टीम कुसमी का प्रभारी बनाया गया है। इनके द्वारा पूरे ब्लाक में कोरोना स्क्रीनिंग का कार्य रात-दिन मेहनत कर किया जा रहा है। कुसमी ब्लाक अंतर्गत चिकित्सकों की कमी के बीच इन पर काफी जिम्मेदारी है, और वह कोरोना महामारी के विरूद्ध लड़े जा रहे युद्ध में पूरी लगन व मेहनत के साथ अपनी भूमिका का निर्वहन कर रहे हैं।
------
डॉ.संजय पटेल-
.........सामुदायिक स्वास्थ केंद्र सिहावल अंतर्गत प्राथमिक स्वास्थ केंद्र बिठौली में पदस्थ चिकित्सा अधिकारी डॉ.संजय पटेल को ब्लाक रैपिड रिस्पांस टीम सिहावल का चिकित्सा प्रभारी बनाया गया है। इनके द्वारा कंट्रोल रूम से सूचना मिलने पर तत्काल स्थल पर पहुंच कर लोगों की स्क्रीनिंग की जाती है। कोरोना वायरस के विरूद्ध जारी युद्ध में ये भी एक योद्धा के रूप में अपनी अहम भूमिका निभाते हुए कोरोना के कर्मवीर बन गए हैं।
------
रामसजीवन शर्मा, सेक्टर सुपरवाइजर-
..........सामुदायिक स्वास्थ केंद्र रामपुर नैकिन अंतर्गत प्राथमिक स्वास्थ केंद्र खड्डी में पदस्थ सेक्टर सुपरवाइजर सेक्टर धनहा रामसजीवन शर्मा कोरोना महामारी के विरूद्ध जारी युद्ध में एक अहम सैनिक की भूमिका में है। इन दिनों वह करीब १४ घंटे प्रतिदिन कार्य करते हुए क्षेत्र में जिले के बाहर से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग कर रहे हैं। अब तक तीन सौ से अधिक ऐसे लोगों की स्क्रीनिंग इनके द्वारा की जा चुकी है। ग्रामीण स्वास्थ सेवा में यह कोरोना के कर्मवीर बन गए हैं।
------
रुक्मणी मरावी, एएनएम-
.........जिले के दूरस्थ अंचल सामुदायिक स्वास्थ केंद्र मझौली अंतर्गत उप स्वास्थ केंद्र बकवा में कार्यरत एएनएम रुक्मणी मरावी कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु लगातार जन जागरूकता फैला रही हैं। इस वायरस से बचाव हेतु लोगों को जागरूक करने के साथ ही गांव में बाहर से आने वाले लोगों की सूचना आरआरटी टीम को देकर उनका स्वास्थ परीक्षण कराते हुए कोरोना वायरस के विरूद्ध जारी युद्ध में एक योद्धा के रूप में अपनी भूमिका का निर्वहन कर रही हैं।

Manoj Pandey
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned