सीधी जिले में बस सोन नदी में गिरी, 20 की मौत, 30 से ज्यादा घायल

सीधी जिले में बस सोन नदी में गिरी, 20 की मौत, 30 से ज्यादा घायल

Rajiv Jain | Publish: Apr, 17 2018 11:58:52 PM (IST) Sidhi, Madhya Pradesh, India

सीधी के अमलिया के पास सोन नदी में मंगलवार देर रात एक वाहन अनियंत्रित होकर गिर गया। वाहन में बारात सवार थी।

 

सीधी. सीधी. सीधी के अमलिया के पास सोन नदी में मंगलवार देर रात एक वाहन अनियंत्रित होकर गिर गया। वाहन में बारात सवार थी। जब वाहन पुल से गुजर रहा था, तभी हादसे का शिकार हुआ और करीब १०० फीट नीचे जा गिरा। हादसे में २० से ज्यादा की मौत होने की खबर आ रही है, वहीं ३० से ज्यादा घायल हैं। हालांकि प्रशासन ने मृतक संख्या को लेकर अधिकृत पुष्टि नहीं की है। हादसे की जानकारी होने पर एसपी व कलेक्टर सहित आला अधिकारी मौके पर पहुंच चुके हैं।
बताया गया है कि बारात देवसर से पमरिया जा रही थी, सभी वाहन क्रमांक एमपी ५३ जीए ०८४१ सवार थे, जो टाटा ७०९ नामक छोटा ट्रक था। मंगलवार रात ९.३० बजे वाहन पुल से गुजर रहा था, तभी चालक का वाहन से नियंत्रण खत्म हो गया और वाहन सीधे पुल की रैलिंग तोड़ते हुए सोन नदी में जा गिरा। जिसमें २० से ज्यादा की मौत हो गई। सूचना मिलने पर अमिलिया थाना प्रभारी दीपक सिंह बघेल मौके पर पहुंचे, उन्होंने एसपी मनोज श्रीवास्तव को सूचना दी। जिसके बाद आला अधिकारी मौके पर पहुंचना शुरू हो गए। रात में रेसक्यू शुरू कर दिया गया। घायलों को सीधी अस्पताल पहुंचाया गया है।

अमिलिया बहरी थाने के बीच सोननदी जोगदहा पुल से आज रात9:30 बजे देवसर के हर्राबिजी गाँव के मुजबब्बील खान की बारात सिहावल के पमरिया गाँव जा रही थी कि अचानक से टाटा709 MP 53 GA 0841 सोननदी पुल से डिवाईडर को तोड़ते हुए 100 फीट नीचे सोन नदी में पत्थर से टकरा गई जिसमें लगभग 20 लोगों की तत्काल मौत की सूचना मिली है और 30 से अधिक बुरी तरह घायलों की जानकारी मिल रही है। दोनों थानों की टीम रेस्क्यू ऑपरेशन में लगी हुई है।

पुलिस अधीक्षक मनोज श्रीवास्तव व कलेक्टर दिलीप कुमार घटना स्थल पर पहुंचे। तत्काल सीधी से सहायता के लिए बल जरूरी संसाधन भेजा गया।घटना स्थल पर बहरी थाना प्रभारी विशाल शर्मा और अमिलिया के नवागत थाना प्रभारी दीपक सिंह बघेल व कोतवाली थाना प्रभारी रामबाबू चौधरी भी अपनी टीम के साथ घटना स्थल पर मौजूद रहे।

घायलो को सीधी जिला अस्पताल लाया गया। बचाव कार्य अभी जारी है,रात होने की वजह से सहायता राहत कार्य में परेशानी हो रही है। घटना से लगता है मृतकों की संख्या बढ़ सकती है।

Ad Block is Banned