पूजा अर्चना के साथ हुई नए वर्ष की शुरूआत, दिन भर चलता रहा बधाइयों का दौर

शहर के मंदिरों में दिन भर लोगों की लगी रही भीड़, शहर के पार्कों में युवक-युवतियों ने पहुंचकर मनाया नए साल का जश्न, दिन भर मौसम रहा खराब, रिमझिम बारिश के बीच नए वर्ष का आगाज

By: Manoj Pandey

Published: 03 Jan 2020, 02:24 PM IST

सीधी। नए वर्ष 2020 का आगाज बुधवार को खराब मौसम के साथ हुआ। सुबह से जहां आसमान में बादल के साथ घना कोहरा छाया रहा, वहीं दोपहर बाद से रूक-रूक कर दिन भर रिमझिम बारिश का दौर चलता रहा। बारिश के कारण ठंड का असर भी ज्यादा रहा, इसके बावजूद लोग घरों से बाहर निकले और दिन भर एक दूसरे को नए वर्ष की बधाई देते दिखे। देर रात से ही मोबाइल फोन में वाट्सअप, फेशबुक, इंस्टाग्राम, ट्यूटर व एसएमएस के माध्यम से बधाइयों का दौर शुरू हो गया था, जो बुधवार को दिन भर जारी रहा। नए वर्ष की शुरूआत लोग पूजा अर्चना के साथ करना ज्यादा मुनासिब समझा, जिसके चलते शहर के सोनांचल बस स्टैंड के सामने स्थित हनुमान मंदिर, पूजा पार्क स्थित गणेश मंदिर, सांई मंदिर, गायत्री मंदिर में पूजा अर्चना करने दिन लोगों का जमावड़ा लगा रहा। शहर के सांई मंंदिर व उत्तर करौंदिया स्थित पंचमुखी हनुमान मंदिर में भंडारे का भी आयोजन किया गया था।
नेहरू पार्क में लगी रही भीड़-
नए साल का जश्र मनाने लोग पार्कों व होटलों में भी पहुंचे। शहर पूजा पार्क के बगल स्थित नेहरू पार्क में युवक युवतियों की काफी भीड़ जमा रही, जहां वे एक दूसरे को नए वर्ष की शुभकामना के साथ ही सेल्फी लेते नजर आए।
ग्रीटिंग की जगह फूलों का बढ़ा व्यापार-
इस वर्ष नए वर्ष की शुभकामना देने के लिए ग्रीटिंग की खरीददारी लोगोंं द्वारा नहीं की गई थी, जिससे इसका व्यापार काफी प्रभावित रहा। इसके बजाए फूलों के माध्यम से नए वर्ष की बधाई देने का चलन बढऩे से शहर मेें कई जगह फूलों की दुकानें सजी रहीं, जहां लोग फूल खासकर गुलाब का फूल खरीदते नजर आए।
मझौली के युवाओं ने बृद्ध व नि:शक्तों को कंबल बांटकर मनाया नववष-
एक तरफ जहां तमाम क्षेत्रों में नए वर्ष के आगमन के उपलक्ष में तरह-तरह के उत्तेजक गीत संगीत एवं मादक पेय पदार्थों का उपयोग आयोजनों या समूह के माध्यम से किया जाता है, जिससे समाज का वातावरण भी खराब होता है और घटना-दुर्घटना भी इसी की वजह होती हैं। वहीं दूसरी तरफ नगर क्षेत्र में मझौली केसरवानी समाज बजरंग गु्रप के युवाओं ने नए वर्ष के उपलक्ष में जिस तरह नि:शक्त एवं वृद्ध जनों के घर परिवार में जाकर उनके बीच बैठकर उनका हाल-चाल जाना और उन्हें अपनापन का एहसास दिलाया, वहीं उपहार स्वरूप ऐसे लोगों को कंबल भेंट किया गया, जो समाज के लिए सराहनीय कार्य और अनुकरणीय रहा। ऐसे सोच रखने वाले युवाओं के ऐसा कार्य पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बना रहा, वहीं लोगों द्वारा ऐसे युवाओं की सराहना भी की जा रही है। इस ठंड के मौषम में गरम कपड़े व कंबल ऐसे लोगों के लिए खास जरूरत और आवश्यकता की चीज होती है, जिसे महसूस कर उसका उपहार देकर नेक कार्य की युवाओं ने मिशाल कायम की। टीम में शामिल लोगों में पिंटू गुप्ता, रामपाल गुप्ता, अखिलेश, अरविंद, सिंटू सिंह, अजय, बृजेश, अजय राय, तोषण मिश्रा, ओमप्रकाश, राजेश, अरुण, राजू, प्रदीप, राकेश, सुरेश, चंद्रकुमार रजक,कृष्णपाल, दिनेश, सिद्धराज सिंह आदि शामिल रहे।

Manoj Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned