सरकार को वचन पत्र याद दिलाने पेंशनर्स ने सौंपा ज्ञापन, जानिए क्या था वचन पत्र में

सांतवा वेतनमान लागू करने व सभी पेंशनर्स को 32 माह का एरियर्स 6 प्रतिशत ब्याज के साथ दिए जाने की मांग

सीधी। प्रदेश सरकार द्वारा वचन पत्र पूरा न करने को लेकर पेंशनर्स एसोसिएशन द्वारा शुक्रवार को मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर केा ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन सौंपने के पूर्व मप्र पेंशनर्स एसोसिएशन द्वारा वीथिका भवन में बैठक किया गया। बैठक में पदाधिकारियों द्वारा सरकार की उपेक्षा विरोध किया गया। बैठक के दौरान एसोशिएशन के अध्यक्ष देवीचरण शर्मा ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार द्वारा चुनाव के दौरान जारी किए गए वचन पत्र में पेंशनरों के लिए 1 जनवरी 2016 से 2.57 के हिसाब से सातवां वेतनमान लागू करने तथा 1 जनवरी 2016 से 31 मार्च 2018 तक कुल 27 माहों के एरियर्स भुगतान करने की बात कही गई थी। राज्य के सभी पेंशनर्स को केंद्रीय पेंशनर्स की भांति एक हजार रूपए प्रतिमाह चिकित्सा सहायता प्रदान करने एवं मप्र के पेंशनरों को पेंशन 80 वर्ष की आयु से 20 प्रतिशत बढ़ोत्तरी की जगह 70 वर्ष की आयु में यह बढ़ोत्तरी करने के लिये वचन पत्र में उल्लेख किया गया था लेकिन सरकार में आने के बाद आज तक इसे पूरा नहीं किया जा सका है। अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि पेंशनर्स की अन्य मागों में मप्र छत्तीसगढ़ पुनर्गठन अधिनियम की धारा 49 को विलोपित करने, छठवें वेतनमान अंतर्गत न्यायालयीन निर्णय के अनुरूप सभी पेंशनर्स को 32 माह का एरियर्स 6 प्रतिशत ब्याज के साथ दिये जाने के साथ ही नियमित कर्मचारियों की तरह पेंशनर्स को 50 हजार रूपये उपादान राशि एक्सग्रेसिया प्रदान करने की मांग की जाती रही है। लेकिन इन मागों को आज तक पूरा नहीं किया जा सका है। देवीचरण शर्मा ने कहा कि ज्ञापन के माध्यम से मु यमंत्री को वचन पत्र एवं मागों को पूरा करने के लिये ध्यान दिलाने का प्रयास किया जा रहा है। बैठक के बाद सभी पेंशनर्स बीथिका भवन से कलेक्ट्रेट पहुंचे और प्रशासन को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपे। ज्ञापन सौंपने के दौरान आरएन गुप्ता केाषाध्यक्ष, एसपी द्विवेदी संगठन सचिव, बीपी त्रिपाठी, पराग केवट, सुरेश दुबे, बीरेन्द्र द्विवेदी, अवधबिहारी पटेल, राजमणि ङ्क्षसह चौहान, एसपी पाठक, राघवेन्द्र सिंह, मो. याकूब, महेन्द्र सिंह, अशोक पटेल, हनुमान पाण्डेय, एसबी सिंह, हरिश्चंद्र सिंह, रामसुंदर शुक्ल, भुवनेश्वर पाण्डेय, छोटेलाल शुक्ल, विश्वनाथ नामदेव, रसिक बिहारी मिश्र, विश्वनाथ मिश्रा, वंशगोपाल, गंगा कुशवाहा, बृजेन्द्र, उदयभान सिंह, गिरिधर, रामटहल, आनंद बहादुर सिंह, रामहित द्विवेदी एवं बैजनाथ कोल सहित अन्य पेंशनर्स उपस्थित रहे हैं।

Manoj Pandey Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned