एसडीएम चुरहट ने अवैध आधार कार्ड केंद्र पर मारा छापा

बीएसएनएल आफिस में चल रहा था अवैध आधार कार्ड बनाने का कारोबार, मशीन जप्त कर संचालक के विरूद्ध की गई कार्रवाई

By: Manoj Pandey

Published: 05 Sep 2019, 08:21 PM IST

सीधी। जिले के ब्लाक मुख्यालय रामपुर नैकिन में लंबे अर्से से आधार कार्ड बनाने का अवैध कारोबार किया जा रहा था, जिसकी शिकायत होने पर एसडीएम चुरहट राजेश मेहता ने आधार कार्ड बनाने के केंद्र में दविश देकर मशीनें जब्त कर संचालक के विरूद्ध कार्रवाई की है। बताया गया कि उक्त संचालक द्वारा ग्राम चकड़ौर के नाम पर आधार कार्ड बनाने का पंजीयन कराया गया था, किंतु रामपुर नैकिन स्थित बीएसएनएल आफिस में अपना केंद्र खोलकर ग्रामीणजनों से मनमानी पैसा वसूलकर कारोबार कर रहा था। आधार कार्ड बनाने के नाम पर 200 से 400 रूपए और परिवर्तन करने पर 300 रूपए लिया जा रहा था। जबकि आधार कार्ड बनाने पर शासन द्वारा संचालक को निर्धारित राशि दी जाती है। ग्रामीण जनों का आधार कार्ड नि:शुल्क में बनाने का प्रावधान है किंतु ग्रामीण क्षेत्र में आधार कार्ड बनाने का काम करने वाले व्यक्ति गरीबों से जबरन वसूली करते हैं। जिसकी शिकायत विगत दिनों ग्रामीणजनों द्वारा एसडीएम चुरहट से की गर्ई थी। जिस पर एसडीएम चुरहट ने मामले केा गंभीरता से लेते हुए बीएसएनएल आफिस रामपुर नैकिन में अवैध रूप से चलाए जा रहे आधार कार्ड बनाने के केंद्र में दविश देकर न केवल सभी मशीनें जब्त की, बल्कि संचालक के विरूद्ध कार्रवाई भी की गई एवं बिना विभागीय अनुमति के बीएसएनएल कार्यालय में पदस्थ कर्मचारियों द्वारा आधार कार्ड केंद्र खोलने की अनुमति दिए जाने पर एसडीएम द्वारा बीएसएनएल के वरिष्ठ अधिकारियों को नोटिस भेजकर जवाब तलब किया है।
........रामपुर नैकिन के बीएसएनएल आफिस में चकड़ौर के नाम पर आधार कार्ड बनाने का पंजीयन होने के बाद भी अवैध रूप से आधार कार्ड बनाने का काम किया जा रहा था और ग्रामीण जनों से आधार कार्ड बनाने के नाम पर अवैध वसूली की जा रही थी। जिसकी शिकायत होने पर केंद्र की जांच की गई तो वह अवैध पाया गया। जिसके कारण केंद्र की सभी मशीनों को जब्त कर केंद्र संचालक के विरूद्ध कार्रवाई की जा रही है। बीएसएनएल के कर्मचारी को नोटिस भेजकर जवाब मांगा गया है।
राजेश मेहता, एसडीएम चुरहट

Manoj Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned