सैलून बंद होने से आर्थिक संकट से जूझ रहा सेन समाज

सहायता राशि दिलाए जाने की उठाई मांग

By: Manoj Pandey

Updated: 16 May 2020, 10:44 PM IST

सीधी। लॉक डाउन के दौरान लगभग सभी तरह के व्यापारियों को व्यापार में छूट प्रदाय की गई है, खास तौर पर ग्रीन जोन के जिलों में शर्तों के साथ राहत दी गई है। लेकिन कोरोना वायरस के कारण लाकडाउन में सेन समाज के द्वारा सैलून और हेयर कटिंग का कार्य पूर्ण रूप से बंद है। जिससे समाज के लोग पूरी तरह से बेरोजगार हैं, कई लोग तो किराए की दुकान लेकर दुकान संचालित करते थे, जिनके दुकान का किराया देना तक मुश्किल हो रहा है। परिवार आर्थिंक तंगी से जूझ रहा है, लेकिन इनकी न तो प्रशाासन द्वारा सुध ली जा रही, न जनप्रति व समाजसेवियों द्वारा और न ही सरकार द्वारा, जिसके चलते समाज के कई लोग भूखे मरने की स्थिति में आ गए हैं। सेन समाज के
मुकेश कुमार सेन ने बताया कि अभी आगे कब तक हमारा व्यवसाय ठप रहेगा इसका कोई भरोसा नहीं, हम सरकार व प्रशासन के आदेश का पालन करते हुए अपनी दुकानें बंद किए हुए हैं, और पूरी तरह से बेरोजगार हो गए हैं, लेकिन संकट के इस दौर में हमारी कोई सुध नहीं ले रहा है। मुकेश कुमार सेन सहित सैलून कारोबारियों ने प्रशासन व सरकार से समाज के लोगों के लिए आर्थिक पैकेज देने की मांग की है, ताकि सेन समाज के परिवार का भरण पोषण होता रहे। मुकेश सेन ने बताया कि समाज के लोगों की सूची तैयार की जा रही है जिसे अतिशीघ्र कलेक्टर को सौंप कर आर्थिक सहायता उपलब्ध कराए जाने की मांग की जाएगी।

Manoj Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned