जहां पानी नहीं, वहां बना चेकडैम

जहां पानी नहीं, वहां बना चेकडैम

Suresh Kumar Mishra | Publish: Feb, 23 2016 11:53:00 PM (IST) Sidhi, Madhya Pradesh, India

टीम लीडर करा रहे गुमनाम ठेकेदारों से गुणवताहीन कार्य


सीधी
जनपद मुख्यालय मझौली के ग्राम धनौली, पाड, दडौर, पोंड़ी, सेमरिया, बोदारीटोला, बड़काडोल सहित अन्य ग्रामों को आईडब्ल्यूएमपी-3 और-4 के लिए चयनित कर दो वर्ष से कई निर्माण कार्य मनमानी अनुपयोगी और गुणवत्ताहीन कराए जा रहे हैं। कर राशि को फर्जी विल वाउचर और मस्टर रोल के जरिए आहरण टीम लीडर द्वारा किया जा रहा है।

ऐसे होता है राशि आहरण का खेल
कागजों मे प्रत्येक चयनित ग्राम में पीआईए वाटर शेड कमेटी का गठन किया गया है, जिसमें ग्राम पंचायत सरपंच को पदेन अध्यक्ष बनाया गया है। ग्राम के एक सदस्य को सचिव बनाया गया है और 10 ऐसे सदस्य भी बनाए गए हैं।

ग्रामीणों का आरोप है कि नियम के तहत न तो कमेटी गठित की गई हैं और न उस अनुरूप कोई कार्य हो रहे हैं। इसलिए टीम लीडर कमेटी के नाम से मनमुताबिक प्रस्ताव व कार्ययोजना बना कर गुम नाम ठेकेदारों को निर्माण कार्य का जिम्मा सौप देतें हैं, जिसमें गुणवत्ता की अनदेखी होती है। ताजा उदाहरण ग्राम बोदारी टोला के पश्चिमी भाग में बनाया गया स्टापडैम है।

यहां न तो पानी आने का और न हि पानी रुकने का स्थान है, फिर भी निर्माण कार्य हो रहा है। वह भी गुणवताहीन। इसी तरह शाप्रा शाला कछियान टोला दडौर के बाउंड्रीवाल निर्माण में गुणवता की अनदेखी की गई है, जिसमें  6 माह के अंदर ही कई दरारें आ गई हैं ।


MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned