जिले के छत्रसाल स्टेडियम में विजेता खिलाडिय़ों को मिला पुरस्कार, खिले उठे चेहरे

ज्योत्सना विद्यालय में अयोजित हुआ वार्षिक प्रतियोगिता

By: Anil singh kushwah

Published: 07 Jan 2019, 06:34 PM IST

सीधी. छत्रसाल स्टेडियम में ज्योत्सना स्कूल के सत्र २2018-19 के वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। विद्यालय के स्पोट्र्स टीचर सूरज शुक्ला ने बताया कि प्रतियोगिता दो दिन हुई। पहले दिन मुख्य अतिथि जगदीश सिंह जिला क्रीड़ा अधिकारी शिक्षा विभाग रहे। अध्यक्षता डॉ.अजय मिश्रा संचालक ज्योत्सना विद्यालय ने की। विशिष्ट अतिथि स्वेता सिंह मैनेजिंग डायरेक्टर ज्योत्सना इंस्टीट्यूट, डॉ.नृपेंद्र सिंह कर्चुली रहे। सर्वप्रथम अतिथियों द्वारा मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलन किया गया। विद्यालय के संगीत शिक्षक उपेंद्र तिवारी के मार्गदर्शन में बालिकाओं ने सरस्वती वंदना एवं स्वागत गीत गाया।

अतिथियों का किया गया स्वागत
वरिष्ठ शिक्षक डीएन शर्मा द्वारा सभी अतिथिओं का वाणी एवं बैच लगाकर स्वागत किया गया। अगले तारतम्य में विद्यालय के चारों समूहों ने बैंड एवं हारमोनियम की आवाज में मार्चपास्ट कर सलामी दी। स्वेता सिंह मैनेजिंग डायरेक्टर ज्योत्सना इंस्टीट्यूट द्वारा खिलाडिय़ों को खेल के नियमों में रहकर खेलने की शपथ दिलाई गई। खेलों का वार्षिक प्रतिवेदन स्कूल के स्पोट्र्स टीचर सूरज शुक्ला द्वारा पढ़ा गया। दूसरे दिन मुख्यातिथि जगदीश सिंह ने कहा कि जिले में स्कूल खेलों में सत्र 2018-19 में ज्योत्सना विद्यालय एक नंबर में है।

स्पोट्र्स टीचर को धन्यवाद
आयोजन हेतु स्पोट्र्स टीचर को धन्यवाद दिया। कार्यक्रम में विजेता और उपविजेता खिलाडिय़ों को पुरस्कार दिया गया। निर्णयाकों, वालेंटियर एवं विद्यालय के शिक्षक-शिक्षिकाओं को स्मृति चिह्न प्रदान किया गया। खेलो के प्रमुख निर्णायक डॉ.नृपेंद्र सिंह कर्चुली थे। निर्णायक मूरत सिंह कर्चुली पीटीआई ज्योत्सना विद्यालय हड़बड़ो, अमित सिंह, महेंद्र मिश्रा एवं संजय गांधी महाविद्याल एवं कन्या महाविद्यालय के छात्र-छात्रा थे। वालेंटियर के रूप में महाराणा प्रताप मार्शल आर्ट एकेडमी सीधी के मुक्केबाज थे। अतिथियों का आभार विद्यालय के शिक्षक श्रीकांत गौतम द्वारा व्यक्त किया गया।

Anil singh kushwah Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned