2500 किलो छिडक़ा, 1500 किलो ही बचा कोरोना से लडऩे का ‘बारूद’

सोडियम हाइपोक्लोराइड मंगवाने की व्यवस्था में जुटी नगर परिषद
निकायों के पास सोडियम हाइपोक्लोराइड की कमी, गुपचुप बंद किया छिडक़ाव
अब सरकारी कार्यालयों में ही हो रहा है छिडक़ाव

सीकर. कोरोना को लेकर लॉकडाउन की अवहेलना जनता पर भारी पड़ सकती है। इससे लड़ाई के एकमात्र हथियार सोडियम हाईपोक्लोराइड की कमी ने निकायों के हाथ बांध दिए हैं। ऐसे में सार्वजनिक स्थानों और गली-मोहल्लों में किया जा रहा छिडक़ाव गुपचुप बंद कर दिया गया है। अब केवल ऐसे सरकारी भवनों में ही छिडक़ाव किया जा रहा है। सीकर में शहर के वार्डों में छिडक़ाव के लिए मंगवाई गई सभी 65 मशीन वापस मंगवा ली गई हैं। केवल दस मशीन ही छिडक़ाव के कार्य में लगी है।
परिषद ने छिडक़ा ढाई हजार किलो केमिकल
कोराना के संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सीकर नगर परिषद ने चार हजार किलो सोडियम हाईपोक्लोराइड मंगवाया था। संक्रमण की गंभीरता को देखते हुए इसके छिडक़ाव के लिए प्रत्येक वार्ड के लिए एक मशीन लगाई गई। साथ ही दमकल की गाडिय़ों से शहर के सार्वजनिक स्थलों, प्रमुख सडक़ों पर दिन व रात के समय छिडक़ाव करवाया गया। पिछले एक सप्ताह में नगर परिषद ने इसमें से ढाई हजार किलो सोडियम हाईपोक्लोराइड का छिडक़ाव करवा दिया।
अब यहां पर हो रहा है छिडक़ाव
परिषद की ओर से अब कलक्ट्रेट, सभी सरकारी व निजी अस्पताल, पुलिस थानों व चौकियों में प्रतिदिन सोडियम हाइड्रोक्लोराइड का छिडक़ाव करवाया जा रहा है। इसके अलावा कलक्ट्रेट व सीएमएचओ स्थित कंट्रोल रूप से सूचना मिलने पर छिडक़ाव करवाया जाता है। परिषद के अधिकारियों का कहना है कि जनता कफ्र्यू के दिन पूरे शहर में छिडक़ाव कर कर सेनेटाइज करवा दिया था। अब जनता के बाहर निकलने पर पाबंदी है। ऐसे में संक्रमण फैलने की आशंका कम है। जहां पर लोगों का आवागमन है, वहां पर प्रतिदिन छिडक़ाव करवाया जा रहा है।
प्रदेश के सभी निकाय जूझ रहे कमी से
कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव को रोकने के प्रमुख हथियार सोडियम हाईपोक्लोराइड की कमी से प्रदेश के लगभग सभी निकाय जूझ रहे हैं।
इसका उत्पादन करने वाली कंपनियां मांग के अनुसार आपूर्ति नहीं कर पा रही है। सरकार की ओर से भी इसकी कमी को लेकर कोई गाइड लाइन जारी नहीं की गई है। ऐसे में निकाय अपने स्तर पर ही इसकी व्यवस्था करने में जुटे हैं।
कंपनियों से सम्पर्क
सीकर शहर के सभी वार्डों के गली-मोहल्लों, मुख्य सडक़ों और सार्वजनिक स्थलों पर सोडियम हाईपोक्लोराइड केमिकल का छिडक़ाव करवा दिया गया है। अब जनता के घरों से बाहर निकलने पर पाबंदी है। ऐसे में संचालित हो रहे सरकारी कार्यालयों, अस्पतालों और थाने-चौकियों में ही छिडक़ाव करवाया जा रहा है। नगर परिषद के पास वर्तमान में 15 सौ किलो केमिकल का स्टॉक है। केमिकल मंगवाने के लिए इसका निर्माण करने वाली कंपनियों से सम्पर्क किया जा रहा है।
गौरव सिंह, स्वास्थ्य अधिकारी, नगर परिषद सीकर

Suresh Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned