बाबा के दर्शन के लिए 30 किमी चलना होगा पैदल

धर्मशाला, होटल में ठहरने वालों को देना होगा कोविड जांच रिपोर्ट
मेला मजिस्ट्रेट ने संचालकों को दिए सख्त निर्देश
होटल और धर्मशाला संचालकों को 72 घंटे के भीतर कोविड रिपोर्ट की प्रतिलिपि लेना होगा
तीन दिन से ज्यादा श्रद्धालु नहीं ठहर सकते

By: Suresh

Published: 20 Feb 2021, 05:40 PM IST

खाटूश्यामजी. फाल्गुनी मेले की व्यवस्थाओं को लेकर मेला मजिस्ट्रेट एवं दांतारामगढ़ एसडीएम अशोक कुमार रणवां की अध्यक्षता में शुक्रवार को नगरपालिका सभागार में धर्मशाला, होटल व गेस्टहाउस संचालकों व व्यवस्थापकों की बैठक हुई। मेला मजिस्ट्रेट ने सख्त निर्देश देते हुए कहा कि धर्मशाला आदि में ठहरने वाले श्रद्धालुओं की 72 घंटे के भीतर की कोविड जांच रिपोर्ट की प्रतिलिपि भी लेनी अनिवार्य होगी और उन्हें ठहराने की अवधि भी तीन दिन की ही होगी। बिना परिचय पत्र के किसी को प्रवेश नहीं देवे। धर्मशालाओं में भजन संध्या की पूर्णतया पाबंदी रहेगी। धर्मशाला में लगने वाले बासे में ठहरे हुए यात्री की ही भोजन व्यवस्था रहेगी। ईओ कमलेश कुमार मीना ने कहा कि महाराष्ट्र सहित कई राज्यों में कोविड के मामले फिर से बढऩे लग गए हंै। इसलिए धर्मशाला में सफाई पर विशेष ध्यान देना होगा। उन्होंने कहा कि मेला मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में मेले में जांच के दौरान कोविड-19 की गाइडलान एवं मेला निर्देशों की पालना नहीं पाए जाने पर धर्मशाला व होटल के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। थाना प्रभारी पूजा पूनियां ने बताया कि जिन धर्मशाला में कैमरे लगाना जरूरी है।
घरेलू गैस सिलेंडर का उपयोग नहीं करने एवं गैस भंडारण नहीं करने एवं संदिग्ध व्यक्ति की सूचना तत्काल पुलिस को देने की बात कही। अंत में ईओ ने कहा कि सूचना के बाद जो भी धर्मशाला व होटल संचालक व व्यवस्थापक बैठक में नहीं आया उनके खिलाफ नोटिस दिया जाएगा। बैठक में व्यवस्थापकों ने अधिकारियों को समस्याओं से रूबरू करवाया। जिसपर अधिकारियों ने उनका निराकरण करवाने का आश्वासन दिया। बैठक में सफाई निरीक्षक वीरेन्द्र सिंह, एलडीसी राजेन्द्र कुमार सहित होटल व धर्मशाला संचालक व व्यवस्थापक मौजूद रहे।
खाटूश्यामजी. बाबा श्याम के फाल्गुनी मेला 17 से 27 मार्च तक आयोजित होने वाला है। सीकर एसपी कुंवर राष्ट्रदीप ने शुक्रवार को खाटूधाम में बाबा श्याम के फाल्गुनी लक्खी मेले के रास्तों और तैयारियों का जायजा लिया।
एसपी ने पार्किंग स्थल होते हुए रींगस रोड पर मुख्य प्रवेश द्वार, केरपुरा तिराहा, लामिया तिराहा के अलावा चारण व लखदातार मे चल रहे जिगजैग के काम को देखा और मौके पर मौजूद श्री श्याम मंदिर कमेटी के ट्रस्टी प्रताप सिंह चौहान से व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली। इस दौरान चौहान ने बताया कि श्रद्धालुओं को सभी जिगजैग से होकर गुजरने के बाद श्याम मंदिर तक पहुंचने के लिए करीब 30 किमी का सफर तय करना पड़ेगा। इसके बाद एसपी ने मुख्य मेला मैदान के अलावा श्याम मंदिर सुरक्षा व्यवस्थाओं की जानकारी ली। इस मौके पर नीमकाथाना एएसपी रतनलाल भार्गव, रींगस सीओ बनवारीलाल, सीआई कमल कुमार, थाना प्रभारी पूजा पूनियां, कमेटी व्यवस्थापक संतोष शर्मा, मनीष शर्मा आदि मौजूद रहे।

Suresh Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned