VIDEO : राजस्थान बजट के बाद शहरी बजट में सीकर को मिला तीन अरब का बजट

VIDEO : राजस्थान बजट के बाद शहरी बजट में सीकर को मिला तीन अरब का बजट

vishwanath saini | Publish: Feb, 15 2018 02:12:43 AM (IST) | Updated: Feb, 15 2018 01:07:16 PM (IST) Sikar, Rajasthan, India

तीन अरब के बजट में शैक्षणिक कॉम्पलेक्स बनाने के साथ सफाई, रोशनी, सडक़ व नाली निर्माण जैसे कार्यों पर जोर रहा।

सीकर.

शहरी सरकार ने फिर शहरवासियों को बजट में बड़े सपने दिखाए। सभापति जीवण खां के इस बार शहरवासियों को सपने दिखाने की स्पीड ट्रेन जैसी रही। तीन अरब के बजट में शैक्षणिक कॉम्पलेक्स बनाने के साथ सफाई, रोशनी, सडक़ व नाली निर्माण जैसे कार्यों पर जोर रहा। पहली बार सभापति के साथ पार्षद बजट अटैची में लेकर पहुंचे। विकास के बजट को लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष के पार्षदों के बीच हल्की तकरार भी हुई। लगभग डेढ़ घंटे चली बजट बैठक में विकास के 19 अहम प्रस्ताव और 13 सर्किल व मार्गों के नामकरण प्रस्तावों पर मुहर लगी।


सफाई: सभी वार्डों में जाएगी कचरा लेने गाड़ी
कचरा संग्रहण व्यवस्था का दायरा अब 35 वार्डों से बढक़र 50 वार्डों तक होगा। ऑटो टीपरों की संख्या 48 से बढ़ाकर 60 की जाएगी।


रोशनी: 189 लाख से जगमग होंगे मोहल्ले
शहर के कई इलाकों में अब तक स्ट्रीट वायर नहीं है। इसलिए नगर परिषद ने बजट में अजमेर डिस्कॉम को 189 लाख रुपए की स्वीकृति दी है। इससे गली-मोहल्लों में भी रोशनी का सपना पूरा होगा। लगभग 60 किमी वायर दो माह में बिछाया जाएगा।


व्यापारी: शहर में व्यावसायिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए सभी व्यापारियों का पंजीयन किया जाएगा। पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन रहेगी।


कोचिंग व हॉस्टल: लगातर बढ़ती कोचिंग
हॉस्टल की संख्या को देखते हुए ऑनलाइन पोर्टल बनाया जाएगा। इस पोर्टल के जरिए सभी का पंजीयन होगा। इससे वाहर से आने वाले विद्यार्थियों को कोचिंग व हॉस्टल के बारे में जानकारी मिल सकेगी। वहीं आवास की जानकारी पर ज्यादा फोकस किया जाएगा।


शिक्षा: शैक्षणिक कॉम्पलेक्स का निर्माण
शहर में लगातार बढ़ती कोचिंग की संख्या को भी शहरी सरकार ने आमदनी बढ़ाने का जरिया बनाया है। शहर में तीन स्थानों पर शैक्षणिक कॉम्पलेक्स का निर्माण होगा। इसमें कोचिंग संस्थाएं संचालित होगी। वहीं नगर परिषद खुद भी लाईब्रेरी सहित अन्य सुविधा डवलप करेगी।


पट्टे: सब कुछ होगा ऑनलाइन
शहरवासियों की आम समस्या है कि परिषद समय पर पट़्टे जारी नहीं करती। इस कारण लोगों को चक्कर लगाने पड़ते है। इसलिए बजट में शहरी सरकार ने कृषि, स्टेट ग्रांट, भवन निर्माण स्वीकृति सहित अन्य कार्यो को ऑनलाइन करने ऐलान किया है।


सौन्दर्यीकरण: पांच हजार पौधे लगेंगे
शहर में सौन्दर्यकरण को बढ़ावा देने के लिए पांच हजार पौधे लगाए जाएंगे। वहीं मुख्य मार्गो की दीवारों पर शेखावाटी क्षेत्र की वॉल पेटिंग कराई जाएगी। अमृत योजना के तहत छह महीने में सात पार्कों का कायाकल्प होगा।


युवा: मिलेगा प्रशिक्षण
पहली बार शहरी सरकार ने बजट में युवाओं पर फोकस किया है। बेरोजगारों के लिए शहर में सिटी लेवल प्रशिक्षण केन्द्र खोलने की घोषणा की है। प्रशिक्षण के बाद बेरोजगारों का पंजीयन भी किया जाएगा।


स्मार्ट वार्ड: प्रत्येक जोन में बनेगा
शहर के सभी जोन में अब एक स्मार्ट वार्ड बनेगा। पिछले बजट में यह घोषणा हुई थी। लेकिन सभापति ने तर्क दिया कि सीवरेज का काम चलने के कारण इस योजना में काम नहीं हो सका। लेकिन अब जल्द स्मार्ट वार्ड की दिशा में काम शुरू होगा।


परिवहन: सौर ऊर्जा ऑटो चलेंगे
नगर परिषद क्षेत्र की चारदीवारी में ध्वनि प्रदूषण को कम करने के लिए सौर ऊर्जा से संचालित ऑटो चलाए जाएंगे। वहीं परकोटे क्षेत्र में ग्रीन एरिया को बढ़ाया जाएगा।


सीवरेज: 17.5 हजार परिवारों को कनेक्शन
शहर में पहले फेज का सीवरेज कार्य पूरा हो चुका है। पहले चरण में लगभग 17 हजार 625 परिवारों को कनेक्शन दिए जाएंगे। वहीं सीकर में सीवरेज के दूसरे चरण को भी मंजूरी मिल चुकी है। नवलगढ़ रोड, पिपराली रोड, राधाकिशनपुरा बसंत विहार व हाउसिंग बोर्ड सहित 98 किलोमीटर लंबी लाइन डाली जाएगी। 13 हजार परिवारों को फायदा होगा।


बच्चों के लिए: चलेगी जीवण रेल
सांवली रोड स्थित स्मृति वन अब नगर परिषद को मिलेगा। नगर परिषद ही इस उद्यान की देखभाल करेगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned