रफ्ता रफ्ता बढ़ी रफ्तार, 66.15 फीसदी हुआ मतदान

राजस्थान में जिला परिषद व पंचायत समिति सदस्यों के लिए दूसरे चरण के चुनाव में सीकर जिले में शनिवार को 66.15 फीसदी मतदान हुआ।

By: Sachin

Published: 27 Nov 2020, 10:25 PM IST

सीकर. राजस्थान में जिला परिषद व पंचायत समिति सदस्यों के लिए दूसरे चरण के चुनाव में सीकर जिले में शनिवार को 66.15 फीसदी मतदान हुआ। जिले में धोद व फतेहपुर में 10 जिला परिषद व 68 पंचायत समिति सदस्यों के लिए हुए मतदान में धोद में 66.31 व फतेहपुर में 65.91 फीसदी मतदाताओं ने मतदान किया। जो पहले चरण के चुनाव से करीब पांच फीसदी ज्यादा रहा। पहले चरण के चुनाव में सीकर की नीमकाथाना, पाटन व खंडेला पंचायत समिति में 60.37 फीसदी मतदान हुआ था। लेकिन, धोद व फतेहपुर के मतदाताओं में यह उत्साह पांच फीसदी और ज्यादा दिखा।

रफ्ता रफ्ता बढ़ी रफ्तार
धोद व फतेहपुर में मतदान की रफ्तार रफ्ता रफ्ता बढ़ी। सात फीसदी लुढ़ककर 4.2 डिग्री पहुंचे तापमान की सर्दी में सुबह सुबह मतदाता मतदान केंद्रों तक ही नहीं पहुंचे। मतदान केंद्रों पर इने- गिने मतदाता ही मत देते दिखे। लेकिन, धूप में तेजी के साथ ही मतदान में तेजी आई। नतीजतन 10 बजे तक जो मतदान प्रतिश 12.06 फीसदी था। वह 12 बजे तक 24.93, तीन बजे तक 49.64 तथा पांच बजे तक 62.50 फीसदी पहुंच गया। इसके बाद भी मतदान केंद्रों में प्रवेश कर चुके मतदाताओं ने मतदान किया। जिसके चलते मतदान का आंकड़ा 66.15 फीसदी पहुंच गया।


3 लाख 74 हजार मतदाता पंजीकृत
मतदान के लिए धोद व फतेहपुर में 3 लाख 74 हजार 673 मतदाता पंजीकृत थे। जिनमें से धोद में 1 लाख 46 हजार 930 तथा धोद में 2 लाख 27 हजार 743 मतदाता थे। निर्वाचन विभाग के अनुसार इनमें से फतेहपुर में 96 हजार 835 तथा धोद में 1 लाख 51 हजार 7 मतदाताओं ने मतदान किया।


दिखी दिलचस्प तस्वीरें
दोनों पंचायत समितियों में चुनाव के दौरान मतदान केंद्रों पर कई दिलचस्प तस्वीरें भी देखने को मिली। कोरोना गाइडलान की पालना के लिए कोई मतदान केंद्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग के लिए बनाए गोलों में खड़ा अपने मतदान की बारी का इंतजार कर रहा था, तो कहीं घूंघट की ओट लिए महिलाओं की कतारें देखने को मिल रही थी। कई जगह मतदान केंद्र खाली से नजर आ रहे थे, तो कई केन्द्रों पर भारी भीड़ की वजह से कोरोना के कायदे भी कदमों तले पिसते दिखे। कई मतदान केंद्रों पर महिलाओं के अलावा बुजुर्गों का उत्साह भी देखने लायक था। जिनमें से कई तो चलने में सक्षम नहीं होने पर भी बैसाखी या कुर्सी की मदद से मतदान केंद्र पहुंचते रहे।

 

100 वर्षीय महिला ने किया मतदान

लोसल. धोद पंचायत समिति के 41 वार्डो व जिला परिषद के चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से समन्न हुए। लोसल कस्बे के निकट की पंचायत भीराणा, सांगलिया, सामी, चिड़ासरा, भीमा, जाना, लोसल छोटी, सिंगरावट, सरवड़ी, बोसाणा आदि पंचायतों में सुबह से ही मतदाताओं में उत्साह देखने को नहीं मिला। लोगों ने इसकी वजह कोरोना व सर्दी का असर बताया। लोसल छोटी बूथ पर 100 वर्षीय गयारसी देवी ने भी मतदान किया। सभी बूथो पर प्रशासन ने सैनेटाइज करने के बाद ही मतदान बूथ में प्रवेश करने दिया और सोशल डिस्टेंस की पालना भी दिखाई दी।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned