अपराध से पहले 100 बार सोचेंगे अपराधी, अब और हाइटेक हुआ पुलिस का यह हथियार

अब यदि शहर में कोई भी वारदात होगी तो अपराधी ( Criminal Caught in CCTV ) तीसरी आंख से मुश्किल ही बच पाएगा। 24 घंटे शहर की हर घटना पर निगरानी रहेगी। 110 सीसीटीवी कैमरों की मदद से अभय कमांड सेंटर ( Abhay Command Center ) में मॉनिटरिंग शुरू की गई है। जिसे बढ़ाकर 400 किया जा रहा है।

सीकर.

अब यदि शहर में कोई भी वारदात होगी तो अपराधी ( Criminal Caught in CCTV ) तीसरी आंख से मुश्किल ही बच पाएगा। 24 घंटे शहर की हर घटना पर निगरानी रहेगी। 110 सीसीटीवी कैमरों की मदद से अभय कमांड सेंटर ( Abhay Command Center ) में मॉनिटरिंग शुरू की गई है। जिसे बढ़ाकर 400 किया जा रहा है। शहर में कोई भी वारदात हो या फिर जाम लगे तो इसकी सीधे अभय कमांड सेंटर पर मॉनिटरिंग रहेगी। जिसके बाद सूचना तुरंत ट्रैफिक पुलिस और संबधित थाने को दी जाएगी। कंट्रोल रूम प्रभारी एसआइ राजेश गजराज ने बताया कि शहर में सभी कैमरे लगाए जा चुके हैं। केवल कैमरों की कनेक्टिंग की जा रही है। उन्होंने बताया कि फिलहाल 110 कैमरों को चालू कर अभय कमांड सेंटर से जोड़ दिया गया है। इसके लिए विशेष फाइबर लाइन डाली गई है और हाइसिक्योरिटी राजनेट से इन्हें जोड़ा गया है। जिसके कारण इनका डाटा भी चोरी नहीं किया जा सकेगा और ना ही इसमें सेंध लगाई जा सकेगी। इनका कनेक्शन सीधे जयपुर अभय कमांड सेंटर पर रखा गया है।


पुलिस की भी जिम्मेदारी तय
100 व 1090 नंबर की सूचना अब सीधे जयपुर अभय कमांड सेंटर में पहुंचेगी। पहले यह कॉल सीकर कंट्रोल रूम में ही पहुंचता थी। अब सूचना जयपुर दी जाएगी। किसी भी वारदात की सूचना मिलने पर जयपुर से सीधे सीकर अभय कमांड सेंटर में सूचना दी जाएगी। यहां से तुरंत टीम एक्टिव हो जाएगी और संबंधित थाने को सूचना भेजी जाएगी। पुलिस मौके पर पहुंच कर कार्रवाई करेगी। घटना को लेकर पुलिस की ओर से क्या कार्रवाई की गई है। उसका भी जवाब सीधे सीकर से जयपुर अभय कमांड सेंटर पर भेजी जाएगी। इसके लिए तीस मिनट का भी समय तय किया गया है। कार्रवाई को लेकर अगर अधिकारी संतुष्ट नहीं होते है तो दोबारा से उचित कार्रवाई के लिए मैसेज किया जाता है।


24 घंटे 15 पुलिसकर्मी रखेंगे नजर
अभय कमांड सेंटर में पुलिसकर्मी तीन शिफ्ट में काम करेंगे। 24 घंटे तक 15 पुलिसकर्मी स्क्रीन पर नजर रखेंगे। शिफ्ट सुबह 6 बजे से दोपहर एक बजे, दोपहर एक बजे से रात 8 बजे व रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक रहेगी।

Read More :

सपना साकार... सीकर-जयपुर ट्रेन शुरू, रेल मंत्री ने रींगस में VC के जरिए किया उद्घाटन

 

अपराध से पहले 100 बार सोचेंगे अपराधी, अब और हाइटेक हुआ पुलिस का यह हथियार

फिलहाल यहां...
बजाज रोड, सालासर स्टैंड, नानी बाइपास चौराहे तक, नवलगढ़ रोड, पिपराली रोड, चौराहे, बाइपास, रामूका बास तिराहे, गोकुल पुरा तिराहे,जयपुर रोड, डिपो तिराहा, बजरंग कांटा, राणी सती रोड, कल्याण सर्किल, डाक बंगला, तापडिया बगीची, जाटिया बाजार सहित कई जगहों पर कैमरों का संचालन शुरू कर दिया गया है।


भुगतान हो तो मदद
नगरपरिषद की ओर से पूर्व में शहर के प्रमुख चौराहों पर सीसीटीवी कैमरों का भुगतान नहीं होने से कैमरे बंद हो गए। इन कैमरों से किसी भी वाहन के नंबर प्लेट को देखा जा सकता था। कंपनी कोई ध्यान नहीं दे रही है। नगरपरिषद की ओर से इन कैमरों का भुगतान हो तो पुलिस को अपराधों पर लगाम लगाने में मदद मिल सके।


इन दो वारदातों से समझिए, कै से मिली सहायता...


केस 01 एमटीएम उखाड़ कर ले जाने की तुरंत दी सूचना
बाडलवास में गत दिनों बदमाश पिकअप में एटीएम उखाड़ कर ले जा रहे थे। तब अभय कमांड सेंटर पर सूचना मिली। अभय कमांड सेंटर में रात को सवा दो बजे सरोज व अन्नू काम कर रही थी। उन्होंने तुरंत एटीएम उखाड़ ले जाने की सूचना सदर पुलिस को दी। एटीएम उखाड़ ले जाने की सूचना पर पुलिस के अधिकारी भी एक्टिव हो गए। सदर पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची तो बदमाश भागने लग गए। बदमाश खाटूश्यामजी की ओर निकल गए। वहां पर नाकाबंदी कर उन्हें रोक लिया। बदमाश एटीएम रखे पिकअप को छोड़ कर भाग गए। इसी कारण से बदमाशों की भी पहचान हो सकी।


केस 02 स्टेडियम के बाहर एएसआइ को कार ने मार टक्कर
दो दिन पहले एक कार ने स्टेडियम के बाहर एएसआइ को टक्कर मार दी। कार तुरंत सांवली रोड की ओर चली गई। अभय कमांड सेंटर के जरिए तुरंत सूचना पुलिस को दी गई। कमांड सेंटर से कार पर नजर रखी गई। अभय कमांड सेंटर की मदद से कार पर पूरी तरह से निगरानी रखी गई। कार को नंबरों के आधार पर पुलिस को सूचना दी गई। नंबरों के आधार पर पकड़ कर लिया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned