बड़ी खबर: सीकर जिले की नीमकाथाना जेल में बंद अपराधी ने खुद का गला काटा, हालत गंभीर

Naveen Parmuwal | Updated: 14 Sep 2019, 06:53:25 PM (IST) Sikar, Sikar, Rajasthan, India

दो दिन पहले हनी ट्रैप ( Honey Trap ) मामले में पकड़े गए आरोपी दलाल बलवीर ( Criminal Balveer Cut Own Throat ) ने शनिवार को नीमकाथाना जेल ( Neemkathana Jail Sikar ) में खुद का गला काट लिया। पुलिस ने उसे गंभीर हालत में राजकीय कपिल अस्पताल ( kapil Hospital Neemkathana ) में भर्ती करवाया है।

सीकर।
दो दिन पहले हनी ट्रैप ( Honey Trap ) मामले में पकड़े गए आरोपी दलाल बलवीर ( Criminal Balveer Cut Own Throat ) ने शनिवार को नीमकाथाना जेल ( Neemkathana Jail Sikar ) में खुद का गला काट लिया। पुलिस ने उसे राजकीय कपिल अस्पताल ( kapil Hospital Neemkathana ) में भर्ती करवाया है। जहां उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। बता दें कि बुधवार को ही पुलिस ने हनी ट्रैप में फंसाने की एवज में तीन लाख रुपए लेते हुए पुलिस ने एक महिला व दलाल बलवीर को गिरफ्तार किया था। जिसके बाद दोनों को जेल भेज दिया गया था। शनिवार को आरोपी बलवीर ने दोपहर बाद जेल में ही किसी हथियार से खुद का गला काट लिया। जिसकी सूचना पर पुलिस में हडक़ंप मच गया। उसे लहूलुहान हालत में तुरंत ही अस्पताल ले जाया गया। पुलिस के आलाधिकारी भी मौके पर पहुंचे है। वहीं अपराधी के गले काटने की सूचना पर अस्पताल के बाहर काफी संख्या में लोगों की भिड़ जमा हो गई। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

यह भी पढ़ें: हनी ट्रैप: दलाल के साथ मिलकर दो बच्चों की मां ने युवक को फंसाया, 5 लाख के लिए किया ऐसा शर्मनाक काम


रुपए मांगते हुआ था ट्रैप
बता दें 13 मई को महिला ने नीमकाथाना सदर थाने में बलात्कार का मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने 164 के बयानों के बाद आरोपी प्रमोद को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। दलाल ने बयान बदलने के लिए आरोपी के भाई से 11 लाख रुपए मांगे थे। पीडि़त ने एसपी ( Sikar SP ) को परिवाद पेश कर रुपए मांगने की शिकायत दी। तब डीएसपी सिटी सौरव तिवाड़ी के नेतृत्व में टीम गठित कर महिला व दलाल को 3 लाख रुपए लेते हुए दबोच लिया। डीएसपी सौरव तिवाड़ी ने बताया कि दलाल बलबीर निवासी नीमकाथाना व महिला को गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि पुलिस अधीक्षक डा.गगनदीप सिंगला के पास अनिल कुमार निवासी गांवडी मोड नीमकाथाना ने परिवाद पेश किया था।

यह भी पढ़ें: खुद को सीए व कुंवारा बताकर शादीशुदा युवक ने धोखे से रचाई दूसरी शादी, Love Letter से हुआ खुलासा

उन्होंने बताया कि उसके भाई प्रमोद के खिलाफ एक महिला ने बलात्कार किए जाने का मुकदमा दर्ज कराया था। नीमकाथाना सदर पुलिस ( Neemkathana Police ) ने प्रमोद को बलात्कार के मामले में गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद से बलबीर, अनिल व सूरत सिंह निवासी नीमकाथाना उसे कोर्ट में बलात्कार के बयान बदलवाने की एवज में 11 लाख रुपए मांग रहे है। उन्होंने रुपए नहीं होने की बात बोलकर मना कर दिया। तब वे तीन किश्तों में तीन- तीन लाख रुपए देने की मांग करने लगे। पहली किश्त देते हुए पुलिस उसे दबोच लिया था। जिसके बाद दोनों को जेल भेज दिया।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned