scriptAfter 45 days, the body of the worker reached home from abroad | 45 दिन बाद विदेश से घर पहुंचा मजदूर का शव | Patrika News

45 दिन बाद विदेश से घर पहुंचा मजदूर का शव

-परिवार के भरण पोषण के लिए छह वर्ष पूर्व गया था सऊदी अरब

सीकर

Published: April 09, 2022 03:09:34 pm

खंडेला/सीकर. परिवार का भरण पोषण करने के लिए छह वर्ष पूर्व विदेश गए हुए 35 वर्षीय युवक की संदिग्ध परििस्थतयों में हुई मौत के 45 दिन बाद शव घर पहुंचा। शव के घर पहुंचते ही घर में कोहराम मच गया। जानकारी के अनुसार दायरा निवासी कैलाश सैनी (35) छह वर्ष पहले सऊदी में मजदूरी करने के लिए गया था। वहां पर मजदूरी करके अपने परिवार का भरण पोषण करता था। 45 दिन पहले वहां पर उसकी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। कैलाश विदेश जाने के 6 वर्ष तक अपने घर नही आया। कुछ वर्ष पहले से उसने घर पर बात करना भी कम कर दिया था।इसके बाद उसने घर पर फोन कर तीन लाख रुपए भी मंगवाए थे। इसके बाद कई दिनो तक उसका फोन नहीं आया तो घरवाले परेशान हुए। आस पास के लोगो से उसके बारे में जानकारी ली तो मौत की सूचना मिली। कैलाश के भाई ने उसकी मौत की सूचना गांव के कुछ लोगों को बताई और उसके शव को भारत में लाने की तैयारी में जुट गए । आखिरकार में 45 दिन बाद जब विदेश से कैलाश का शव घर पहुंचा तो परिजनों में कोहराम मच गया।

45 दिन बाद विदेश से घर पहुंचा मजदूर का शव
45 दिन बाद विदेश से घर पहुंचा मजदूर का शव

एसएफआई की कुछ मांगों के लिए वीसी ने दिया आश्वासन
सीकर. एसएफआई ने विकास शुल्क के नाम पर लूट करने वाले महाविद्यालयों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर विवि कुलपति का घेराव किया। जिलाध्यक्ष विजेंद्र ढ़ाका ने बताया कि विश्वविद्यालय की वेबसाइट नहीं चलने से फॉर्म में त्रुटियां आ रही है। त्रुटियों को सुधारने के नाम पर विद्यार्थी विवि में जाता है, तो 200 रुपए की रसीद विवि की ओर से काटी जा रही है। संगठन का कहना है कि विरोध प्रदर्शन के बाद कुलपति ने मांग को स्वीकार करते हुए आश्वस्त किया कि विवि में त्रुटि सुधार के नाम पर 200 रुपए की रसीद नहीं काटी जाएगी। साथ ही संगठन ने कुलपति के सामने मांग रखी की जिन विद्यार्थियों ने अभी तक कक्षा 10 व 12 के अंक अपलोड नहीं किए है, उन्हें एक बार फिर से मौका दिया जाए। स्वयंपाठी विद्यार्थियों की प्रायोगिक फीस जमा करने की तिथि तथा बिना किसी विलंब शुल्क के विवि की परीक्षा आवेदनों की तिथि आगे बढ़ाने की मांग भी मान लेने का भी आश्वासन दिया। घेराव से पहले छात्र सभा का आयोजन किया गया। इस दौरान संतोष गुर्जर, अभिषेक जोशी, ओम प्रकाश डूडी, राजू बिजारणिया, विरेंद्र बाजिया, संजय चौधरी, दाऊद खान आदि मौजूद रहे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Petrol-Diesel Prices Today: केंद्र के बाद राज्यों ने घटाए पेट्रोल-डीजल के दाम, जानें कितनी हैं आपके शहर में कीमतेंQuad Summit 2022: प्रधानमंत्री मोदी का जापान दौरा, क्वाड शिखर सम्मेलन में बाइडेन से अहम मुलाकात, जानें और किन मुद्दों पर होगी बात'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीRam Mandir : पांच गुम्बद वाला दुनिया का अकेला होगा राम मंदिर, जाने अलग दिखने वाली विशेषताएंभाजपा नेता को किया गिरफ्तार, आशियाना ध्वस्त करने पहुंचा था बुलडोजरपैंगोंग झील पर जारी गतिरोध के बीच रेलवे ने क्यों दिया सुपरफास्ट ट्रेनों के लिए चीनी कंपनी को कॉन्ट्रैक्ट?सिर्फ पेट्रोल और डीजल ही नहीं, पांच चीजें हुईं सस्ती, केरल सरकार ने भी घटाया वैट, चेक करें आपके शहर में क्या हैं दामIPL 2022 Point Table: गुजरात, राजस्थान, लखनऊ और बैंगलोर ने प्लेऑफ में बनाई जगह
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.