आनंदपाल एनकाउंटर मामला : आनंदपाल की बरसी से पहले सीबीआई की जांच ने पकड़ी रफ़्तार, अब तक किए इतने लोगों के बयान दर्ज

आनंदपाल एनकाउंटर मामला : आनंदपाल की बरसी से पहले सीबीआई की जांच ने पकड़ी रफ़्तार, अब तक किए इतने लोगों के बयान दर्ज

rohit sharma | Publish: Apr, 17 2018 03:54:40 PM (IST) Sikar, Rajasthan, India

आनंदपाल की बरसी से पहले सीबीआई की जांच ने पकड़ी रफ़्तार, अब तक किए इतने लोगों के बयान दर्ज और सामने आया ये

सीकर ।

करीब एक साल पहले कुख्यात Gangster Anand Pal Singh चुरू जिले के मालासर में पुलिस एनकाउंटर में मारा गया था। यह मामला आंनदपाल की फ़रारी के बाद से ही पुलिस की सरदर्दी बना हुआ था और अब आंनदपाल के एनकाउंटर के बाद भी ये मामला शांत नहीं हुआ है। एनकाउंटर के बाद लगातार इस मामले को लेकर सीबीआई की जांच उठ रही थी। सीबीआई ने जांच शुरू करने के बाद मामले की जांच ने अब रफ़्तार पकड़ ली है। सीबीआई की टीम ने आंनदपाल मामले में जांच तेज करते हुए, अब तक करीब 200 से ज्यादा लोगों के बयान भी दर्ज कर चुकी है।

सीबीआई ने सोमवार को आंनदपाल एनकाउंटर मामले में आंनदपाल के भाई देवेंद्र उर्फ़ गुट्टु और रुपेश उर्फ़ विक्की से भी करीब 5 घंटे से ज्यादा जेल में पूछताछ की और बयान दर्ज किया। आपको बता दें कि आंनदपाल के दोनों भाई विक्की और देवेंद्र अजमेर की हाई सिक्योरिटी जेल में बंद हैं। इन दोनों की गिरफ़्तारी के बाद ही आनंदपाल का एनकाउंटर हो पाया था।

गौरतलब है कि आनंदपाल के एनकाउंटर की ख़बर के बाद गांव सांवराद में माहौल ख़राब हो गया था ऐसे में ही उपद्रव के बीच एक युवक की मौत भी हो गई थी। उसी वक़्त अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के पदाधिकारी गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मिले थे और सभी ने आंनदपाल सिंह के एनकाउंटर की सीबीआई जांच की मांग की थी। गृह मंत्री ने इन मांगों पर विचार करने का आश्वासन दिया था और उसी के बाद राज्य सरकार ने भी सीबीआई को जांच के आदेश दे दिए थे। मंजूरी के बाद अब तक सीबीआई ने इस एनकाउंटर मामले में 200 से ज्यादा लोगों से पूछताछ कर उनके बयान दर्ज कर लिए हैं। इनमें राजस्थान व हरियाणा पुलिस और एसओजी के बयान भी शामिल हैं। साथ ही गांव मालासर में जिस घर में आंनदपाल का एनकाउंटर हुआ था उस घर के मालिक और परिवार वालों से भी सीबीआई ने पूछताछ की है।

सीबीआई ने जांच के दौरान आंनदपाल से ज़ब्त किए और प्रकरण में उपयोग में लिए हथियारों को ज़ब्त कर उन्हें FSL जांच के लिए आगे भेजा है। इस जांच में आनंदपाल की AK-47, एक राइफल और 27 पुलिसकर्मियों के हथियारों समेत कारतूस और खोल को जांच में शामिल किया है।

 

आंनदपाल एनकाउंटर को होने वाला है एक साल

कुख्यात गैंगेस्टर आंनदपाल सिंह को 24 जून 2017 को चुरू जिले के मालासर में Police Encounter में मारा गया था। इस एनकाउंटर में भाग लेने वाले पुलिस के दो जवान भी घायल हुए थे। पूर्व डीजीपी Manoj Bhatt ने आनंदपाल के एनकाउंटर के बाद मौत की पुष्टि भी कर दी थी।

एक जानकारी के अनुसार, Anand Pal Singh के भाई को सबसे पहले पुलिस ने अरेस्ट किया था और उसके बाद पुलिस ने आनंदपाल का ठिकाना ढूंढ पाने में बड़ी कामयाबी पायी थी । देर रात करीब 11:30 बजे Anand Pal और पुलिस के बीच चूरु के मालासर में हाईवे किनारे एक घर में मुठभेड़ हुई जिसके बाद आनंदपाल को ढेर कर दिया गया। इस मुठभेड़ में Anand Pal की ने अपनी तरफ से भी एके-47 बंदूक से करीब 100 राउंड फायर भी किए थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned