VIDEO. किसान आंदोलन को पति- पत्नी का झगड़ा बताना सांसद की खोखली मानसिकता- डा. शर्मा

केंद्रीय कृषि कानूनों (Three Farm Law) के खिलाफ आंदोलनकारी किसान (Kisan Protest) व सरकार की वार्ता की तुलना पति- पत्नी के झगड़े से करने वाले सीकर सांसद सुमेधानंद सरस्वती (Sikar MP Swami Sumedhanand Saraswati )के बयान पर कांग्रेस की पूर्व उपाध्यक्ष व प्रवक्ता डा. अर्चना शर्मा (Congress Leader Dr. Archana Sharma) ने पलटवार किया है।

 

By: Sachin

Updated: 17 Feb 2021, 02:04 PM IST

सीकर.केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलनकारी किसान व सरकार की वार्ता की तुलना पति- पत्नी के झगड़े से करने वाले सीकर सांसद सुमेधानंद सरस्वती के बयान पर कांग्रेस की पूर्व उपाध्यक्ष व प्रवक्ता डा. अर्चना शर्मा ने पलटवार किया है। डा. शर्मा ने सांसद के बयान को खोखली मानसिकता का परिचायक बताया है। उन्होंने कहा कि किसान देश का सबसे बड़ा वर्ग है। जो अर्थ व्यवस्था को सबसे बड़ा संबल देता है। उसकी बदहाली करने के बाद उसकी मांग को पत्नी पति का झगड़ा बताना खोखली सोच है। कहा कि यदि सांसद में थोड़ी भी गंभीरता हो तो अपनी सरकार को झकझोरते हुए कृषि कानून वापस लेने के लिए समझाना चाहिए। डा. शर्मा बुधवार को सीकर पहुंची थी। जहां एक होटल में प्रेस को संबोधित करते हुए उन्होंने यह बात कही। गौरतलब है कि सांसद सुमेधानंद सरस्वती ने दो दिन पहले प्रेसवार्ता में किसान आंदोलन को कांग्रेस व कम्यूनिस्टों का आंदोलन कहा था। किसान व सरकार की वार्ता की तुलना पति- पत्नी के झगड़े से करते हुए उन्होंने कहा था कि किसानों की कानून वापसी की मांग वैसी है जैसे पति से झगड़े के बाद घर लौटी पत्नी के परिजन संबंध खत्म कर समझौते वार्ता करने की बात करें।

 

सड़क से संसद तक कांग्रेस साथ
डा. शर्मा ने कृषि कानूनों के साथ महंगाई को लेकर केंद्र सरकार को घेरा। कहा कि कोरोना लॉकडाउन की वजह से जब देश में अर्थ व्यवस्था गिर रही थी, उस समय सरकार ने किसानों के खिलाफ कृषि कानून पास किए। जो कानून किसानों ने मांगा ही नहीं उसे बिना विमर्श के लागू करने के बाद सरकार अब किसानों की सुन भी नहीं रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सड़क से लेकर संसद तक में किसानों के साथ है। सरकार को चाहिए कि वह तीनों अवांछित कानून वापस ले। महंगाई पर कहा कि भाजपा इसी मुद्दे को लेकर सत्तारूढ हुई थी। लेकिन, अब दो महीने में ही पेट्रोल के दाम 100 रुपए पार व रसाई गैस के दाम में 200 रुपए की बढ़ोत्तरी कर सरकार कोरोना काल की आर्थिक मार के बीच जनता की जेब पर डाका डाल रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned