सीकर बंद : बाजार सुने, सडक़ों पर सन्नाटा, सुबह-सुबह ऐसा रहा बंद का नजारा

सीकर बंद : बाजार सुने, सडक़ों पर सन्नाटा, सुबह-सुबह ऐसा रहा बंद का नजारा

Vishwanath Saini | Publish: Sep, 06 2018 11:27:33 AM (IST) Sikar, Rajasthan, India

www.patrika.com/sikar-news/

सीकर. एससी एसटी एक्ट में किए गए संशोधन के विरोध में गुरुवार को सीकर बंद का आह्वान किया गया है। सुबह से ही सीकर के बाजारों में सन्नाटा पसरा पड़ा है। सडक़ों पर आवाजाही भी कम ही है। शेखावाटी सर्वसमाज संघर्ष समिति ने बुधवार शाम प्रेस कांफ्रेंस कर बंद का ऐलान किया। बंद को व्यापार मंडल सहित 28 संगठनों ने समर्थन दिया है। इस दौरान कुछ मेडिकल की दुकाने भी बंद रहेंगी। ये वे मेडिकल स्टोर होंगे जिनके मालिक स्वेच्छा से बंद रखना चाहते हैं।

 


संघर्ष समिति का दावा है कि पेट्रोल पंप भी बंद रहेंगे। हालांकि रात तक इनका लिखित में समर्थन नहीं मिला है। संघर्ष समिति के डॉ रवि शर्मा ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी सरकार ने एससी एसटी एक्ट में संशोधन कर काला कानून बनाया है। बिना जांच के गिरफ्तारी कैसे हो सकती है? उन्होंने कहा कि एक दिन पहले जयपुर में हुई सभा के दौरान ही देशभर में बंद रखने की घोषणा की गई थी। इसी के तहत सीकर के बाजार बंद रहेंगे। बंद को 28 संगठनों ने समर्थन दिया है।


ऑटो व बस चलेंगी
यह व्यवस्था सुचारू रहेगी। किसी भी तरह के जाम का ऐलान नहीं किया गया है।

बंद के दौरान क्या क्या होगा प्रभावित?
स्कूलें
स्कूलें बंद नहीं रहेंगी। निजी शिक्षण संस्थान संघ के अध्यक्ष बीएल रणवां का कहना है कि संघ की ओर से बंद को पूरा समर्थन है हम इस काले कानून का विरोध करते हैं। लेकिन स्कूलें बंद रखने का फैसला नहीं किया गया है।


मेडिकल स्टोर
केमिस्ट ऐसोसिएशन के अध्यक्ष संजीव नेहरा का कहना है कि उनकी यूनियन को बंद के 72 घंटे पहले अनुमति लेनी पड़ती है। इस वजह से ऐसोसिएशन बंद को समर्थन नहीं दे सकती। स्वैच्छिक तौर पर कई दुकानदार बदं रखेंगे।


बाजार
सभी व्यापारिक संगठनों ने बंद को समर्थन दिया है। इस वजह से बाजार नहीं खुलेंगे। व्यापार संघ के अध्यक्ष चंद्रभान गोयल का कहना है केंद्र सरकार के काले कानून का पूरजोर विरोध किया जाएगा।


जिलेभर में रहेगा बंद का असर
नीमकाथाना. बाजार बंद को लेकर बुधवार को गायत्री मंदिर में सभी प्रतिष्ठान सब्जी मंडी,निजी शिक्षण संस्थान, कोचिंग संस्थान बंद रखेंगे। इधर, लोसल , दांतारामगढ़. खंडेला, धोद, श्रीमाधोपुर. रींगस. पलसाना में कई संगठनों ने बंद का समर्थन किया है।


इन संगठनों ने दिया है बंद को समर्थन
सीकर व्यापार महासंघ, संयुक्त व्यापार महासंघ, सीकर जिला व्यापार संंघ, सर्व ब्राह्मण महासभा, करणी सेना, जाट बाजार व्यापार मंडल, सीकर केमिस्ट एसोसिएशन, बड़ी गोठ जैन समाज, राष्ट्रीय करणी सेना, राजपूत सभा, राजपूत विकास परिषद, दाधिच महासभा, सीकर जिला उद्यमी संघ, राजस्थान ब्राह्मण महासभा, नानी गेट व्यापार संघ, सुभाष चौक व्यापार संघ, विप्र फाउंडेशन, गौड़ ब्राह्मण महासभा, प्राइवेट चिकित्सक एसोसिएशन, पारीक सोशल ग्रुप, नारायणी सेना, मेढ क्षत्रिय स्वर्णकारसंघ, जांगिड़ समाज, कायस्थ समाज।

गौरव यात्रा व अमित शाह के दौरे का करेंगे विरोध संघर्ष समिति ने ऐलान किया है कि शेखावाटी में मुख्यमंत्री की गौरव यात्रा का विरोध किया जाएगा। जहां भी यात्रा जाएगी वहां विरोध होगा। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के दौरे का भी विरोध किया जाएगा। सीकर में 20 सितंबर को एक बड़ी रैली आयोजित की जाएगी। इसके बाद जयपुर में सभा होगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned