VIDEO : चूरू से आज सीकर आएगी ब्रॉडगेज ट्रेन, 8 डिब्बों में 800 यात्रियों कर सकेंगे सफर, सभी स्टेशनों पर स्वागत की तैयारी

रेल राज्य मंत्री राजेन गोहेन चूरू में ट्रेक का लोकार्पण करने के साथ हरी झंडी दिखाकर ट्रेन को रवाना करेंगे।

By: vishwanath saini

Published: 09 Dec 2017, 12:02 PM IST

Sikar, Rajasthan, India

सीकर . सीकर-चूरू रेलवे ट्रेक शनिवार से फिर आबाद हो जाएगा। रेल राज्य मंत्री राजेन गोहेन चूरू में ट्रेक का लोकार्पण करने के साथ हरी झंडी दिखाकर ट्रेन को रवाना करेंगे। इसके बाद रविवार से सीकर-चूरू के लिए नियमित रूप से यह टे्रन चलेगी। चूरू से टे्रन संचालन के लिए जनप्रतिनिधियों का पहुंचना शुरू हो गया है। सीकर सांसद स्वामी सुमेदानंद भी पहुंच चुके हैं। दोपहर को पहली बार चूरू से ब्रॉडगेज टे्रन सीकर पहुंचेगी।


रेलवे सूत्रों के अनुसार टे्रन सुबह साढ़े सात बजे सीकर से रवाना होकर सुबह 9: 35 बजे चूरू पहुंचेगी। चूरू से शाम को साढ़े पांच बजे रवाना होकर 7: 35 बजे सीकर पहुुंचेगी।

खास बात यह है कि सीकर-चूरू के बीच चलने वाली छह से आठ डिब्बों की यह ट्रेन डीएमयू (डीजल मल्टीफल यूनिट) होगी। ट्रेन में छह सौ से आठ सौ यात्रियों के बैठने की क्षमता होगी। सीकर से चूरू का ट्रेन का किराया बस से एक तिहाई कम होगा। सीकर से चूरू के बीच बस का किराया 90 से 105 रुपए तक है। जबकि सीकर-चूरू ट्रेन का किराया इससे एक तिहाई कम लगभग 30 रुपए होगा।

sikar train news

90 किमी प्रति घंटा की मिल चुकी स्वीकृति

सितंबर माह में हुए सीआरएस के दौरान निरीक्षण के लिए आए अधिकारी चूरू-सीकर के बीच डाले गए ब्रॉडगेज ट्रेक पर 90 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेन चलाने की अनुमति दे चुके हैं। ट्रेक 110 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेन चलाने के लिए तैयार किया गया है।

सीकर में खड़ी रहने वाली ट्रेन को बीकानेर चलाने की तैयारी

सीकर-दिल्ली के बाद चूरू ट्रेक शुरू होने के बाद रेलवे ने इस ट्रेक पर चलाई जाने वाली ट्रेनों की संभावनाएं तलाशना शूरू कर दिया है। सूत्रों के अनुसार सीकर स्टेशन पर 16 घंटे खड़ी रहने वाली ट्रेन को सीकर-बीकानेर चलाने ाक प्रस्ताव तैयार किया गया है। इसके अलावा बीकानेर, चूरू, सादुलपुर और रतनगढ़ आने वाली पांच शटल गाडिय़ों को भी सीकर तक चलाने का प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है।

समारोह में ये होंगे शामिल
समारोह में पंचायती राज व ग्रामीण विकास मंत्री राजेंद्र राठौड़, शिक्षा (प्राथमिक व माध्यमिक) राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) वासुदेव देवनानी, देवस्थान राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) राजकुमार रिणवा, सांसद चूरू राहुल कस्वा, सांसद सीकर सुमेधानंद सरस्वती, राज्यसभा सांसद नरेंद्र बुडानिया व चूरू सभापति विजय कुमार शर्मा बतौर अतिथि शामिल होंगे।

जाने वाले कम, आने वाले अधिक

सीकर-चूरू ट्रेक पर रेलवे फिलहाल एक ही रेल शुरू कर रहा है। यह रेल सुबह सीकर से रवाना होकर शाम को वापस आएगी। यह टाइम टेबिल भी सीकर से दिल्ली के लिए शुरू की गई ट्रेन की तरह ही है। वहज यह है कि सुबह सीकर से चूरू जाने वाले यात्रियों की संख्या कम और आने वालों की ज्यादा होती है। जानकारों का मानना है कि सीकर से चूरू के लिए इसी समय पर रिवर्स ट्रेन भी चलाई जानी चाहिए। रेलवे प्रतिदिन सुबह चूरू से सीकर के लिए रेल रवाना करता है तो हजारों यात्रियों को फायदा होगा।

14 नवंबर को बंद हुआ था ट्रेनों का संचालन

चूरू-जयपुर के बीच मीटर गेज ट्रेक को वर्ष 2015 में 14 नवंबर को बंद किया गया था। इससे चूरू-जयपुर ट्रेक पर चलने वाली सात ट्रेनों का संचालन बंद हो गया था। इससे लोगों क? जयपुर ??, फतेहपुर व सीकर सहित अन्य शहर कस्बों से रेल के जरिए संपर्क कट गया था।

बीकानेर-जोधपुर समेत बड़े शहर जाने वालों को लाभ
सीकर जयपुर से भले ही अभी तक नहीं जुड़ पाया हो, लेकिन चूरू ट्रेक पर रेल चलने से यहां से जोधपुर ?, बीकानेर सहित बड़े शहरों में जाने वाले यात्रियों को फायदा होगा। सीकर-चूरू ट्रेन से बीकानेर, जोधपुर सहित बड़े शहरों में जाने वाली कई ट्रेन चूरू में मिल जाएगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned