वक्फ बोर्ड चेयरमैन बुधवाली ने कहा भाजपा प्रदेशाध्यक्ष पूनिया व राजेन्द्र राठ़ौड़ ने जिस थाली में खाया उसी में कर रहे छेद

वक्फ बोर्ड के चेयरन डॉ खानु खान बुधवाली विधायक हाकम अली के साथ मंगलवार को एक दिवसीय दौरे पर फतेहपुर आए। यहां पत्रकारों से बात करते हुए बुधवाली ने भाजपा पर जमकर आरोप लगाएं।

By: Sachin

Published: 05 Aug 2020, 01:16 PM IST

सीकर/ फतेहपुर. वक्फ बोर्ड के चेयरन डॉ खानु खान बुधवाली विधायक हाकम अली के साथ मंगलवार को एक दिवसीय दौरे पर फतेहपुर आए। यहां पत्रकारों से बात करते हुए बुधवाली ने भाजपा पर जमकर आरोप लगाएं। कांग्रेस विधायकों के बाड़ाबंदी के सवाल पर बुधवाली ने कहा कि कांग्रेसी विधायको की कोई बाड़ाबंदी नही है। बाड़ाबंदी में भाजपा विधायक हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा प्रदेशाध्यक्ष पूनियां बार बार पाकिस्तान का नाम ले रहे हैं। कांग्रेस का तो पाकिस्तान से कोई कनेक्शन नही है, शायद भाजपा का कोई कनेक्शन पाकिस्तान से होगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस लोकतंत्र को बचाने की लड़ाई लड़ रही हैं। पत्रकारों के सवाल पर बुधवाली ने कहा कि भाजपा ने खरीदने के अलावा किया ही क्या हैं? विधायकों के जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि कांग्रेसी कभी बिकते नही है। इस दौरान वसुंधरा राजे का हवाला देते हुए बुधवाली ने भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया व चूरू विधायक राजेन्द्र राठ़ौड़ को जिस थाली में खाया उसी में छेद करने वाला भी बताया। इस दौरान विधायक हाकम अली खान ने कहा कि बाड़ाबंदी होती तो मैं यहां थोड़ी होता। मैं यहां बैठक ले रहा हूं, जनता से मिल रहा हूं, बाड़े बंदी जैसी कोई बात नही है। उन्होंने कहा कि सरकार स्थिर है। हम लोग लोकतंत्र को बचाने का काम कर रहे हैं। बागी विधायकों पर कार्रवाई के सवाल पर विधायक हाकम अली ने कहा कि कार्रवाई करने का अधिकार आलाकमान के पास है, इसलिए यह वो ही जाने।

 

नई शिक्षा नीति के खिलाफ एसएफआई का प्रदर्शन

सीकर. छात्रसंघ एसएफआई ने अपने राष्ट्रिय आह्वान के तहत नई शिक्षा नीति के विरोध में कलक्ट्रेट कार्यालय पर नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन किया। संगठन के शहर अध्यक्ष हिंमाशु शर्मा ने बताया कि इस अवसर पर नई शिक्षा नीति के ड्राफ्ट को जलाकर रैली निकाली गई। प्रदर्शन के दौरान संगठन के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष जाखड़ ने संबोधित करते हुए कहा कि नई शिक्षा नीति छात्र विरोधी है। नई शिक्षा नीति को लोकसभा व राज्य सभा में बिना चर्चा किए हुए मंत्रीमंड़ल की ओर किया गया तुगलकी फरमान है। यह फरमान सरकार का न होकर आरएसएस नागपुर के द्वारा एक सोची समझी चाल के तहत शिक्षा को बर्बाद करने के उद्देश्य से इस नीति को लाया गया है। इस शिक्षा नीति से शिक्षा का निजीकरण, केंद्रीयकरण और सांप्रदायिकरण का एंजेंड़ा शामिल किया गया है। यह सार्वजनिक शिक्षा को पुरी तरह से चौपट कर देगा। इस नीति के खिलाफ विद्यार्थियों को जागरूक कर व्यापक स्तर पर आंदोलन किया जाएगा। प्रदर्शन में छात्र नेता अशोक कश्वाह, कला कॉलेज अध्यक्ष संजय चौधरी, रिजवान, अविनाश लढ़ान, दाउद खान, राकेश सामोता, मुकेश थालौड़, अमित चौधरी आदि मौजूद रहे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned