मुम्बई, कोलकाता, सूरत, दिल्ली की हस्तियां इन दिनों मिलेंगी सिर्फ एक जगह...नाम है खाटू धाम

विदेशों से भी पहुंच रहे श्यामभक्त।

By: Gaurav

Published: 01 Mar 2020, 06:36 PM IST

खाटूश्यामजी. अलबेले मस्ताने फाल्गुनी सतरंगी मेले पर लखदातार के जयकारो के साथ पदयात्रियो की बयार दिनों दिन परवान चढ़ रही है। हाथ में निशान लिए अपने प्यारे श्याम की ओर लगातार बढती चली जा रही है। हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी श्याम भक्त प्रदेश सहित मुम्बई,कोलकाता,हरियाणा,सूरत,पंजाब आदि राज्यों के अलावा विदेश से भी बड़ी संख्या में नीले के असवार को रिझाने अपने मन की मुराद पुरी करवाने, श्याम की एक झलक को पाने के लिए नजर बेताबआ रहे है। रींगस से खाटू के रास्ते पर जहां तक नजर जाती है वही तक श्याम के रंग रंगीले निशान और सतरंगी पोषाको में श्याम भक्त नाचते गाते धूम मचाते नजर आ रहे है। फाल्गुन की शक्ल पक्ष की छट रविवार को तीन लाख श्रद्धालुओं ने दरबार में शीश नवाकर मनौतियां मांगी।


भीड़ के साथ खुला लखदातार मैदान का रास्ता
मेले में शनिवार को भीड़ की तादाद बढने के साथ ही श्रद्धालुओ को प्रशासन ने गुणगान नगर होते हुए खटीकान मोहल्ले से केहरपुरा तिराहा से लामिया तिराहा के रास्ते से लखदातार मैदान में बने जिगजैक से लाला मांगीराम धर्मशाला से होकर मुख्य मेला मैदान से श्री श्याम मंदिर तक पहुंचाया गया। धीरे धीरे भीड़ का दबाव बढने के साथ ही चारण मैदान को भी खोल दिया जाएगा। इस मार्ग से रींगस से मंदिर तक पैदल आने वाले श्रद्धालुओं को तकरीबन 30 से 35 किमी का सफर तय करना पड़ता है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned