पहले से भी खतरनाक हो रही कोरोना की नई लहर...! तीन माह बाद कोविड अस्पताल के सभी वार्ड शुरू, तीन शिफ्टों में कोरोना से निपट रहे डॉक्टर

corona in high speed!

कोरोना ने अपनी रफ्तार इस कदर तेज कर दी है कि सरकार को कोविड अस्पतालों में तीन माह से बंद सभी वार्डों को फिर से शुरू करना पड़ गया है। फिर से तीन शिफ्टों में चिकित्सक व स्टाफ की ड्यूटी लगाई गई हैं।

By: Gaurav

Updated: 07 Apr 2021, 06:13 PM IST

corona in high speed!
-कल्याण अस्पताल में आने वाले सभी आईएलआई के मरीजों के लेंगे सैम्पल
सीकर. खतरनाक हो रहे कोरोना(corona) की तेज रफ्तार ने सभी को आतंकित करना शुरू कर दिया है। जिससे निपटने के लिए राज्य सरकार को कोविड अस्पतालों में तीन माह से बंद सभी वार्डों को फिर से शुरू करना पड़ गया है। फिर से तीन शिफ्टों में चिकित्सक व स्टाफ की ड्यूटी लगाई गई हैं।


तीन शिफ्टों में भरा रहेगा स्टाफ
वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के फैलने की रफ्तार को देखते हुए और प्रदेश स्तर पर मिले दिशा-निर्देश के बाद सांवली स्थित जिले के एकमात्र डेडीकेटेड कोविड अस्पताल के सभी वार्डों को खोल दिया गया। कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए कल्याण अस्पताल प्रबंधन ने कोविड अस्पताल में चिकित्सक और स्टाफ की तीन शिफ्ट में ड्यूटी लगा दी है। कल्याण अस्पताल में आने वाले सभी आईएल आई के मरीजों की कोरोना सेम्पलिंग की जाएगी। जिला मुख्यालय स्थित सरकारी स्वास्थ्य केन्द्रों पर आने वाले आईएलआई के सभी मरीजों के कोरोना सेम्पल लेंगे।


60 बेड पर ऑक्सीजन पाइपलाइन
पीएमओ डा अशोक चौधरी ने बताया कि डेडीकेटेड कोविड अस्पताल में आईसीयू को शुरू कर दिया गया है। कोविड अस्पताल में 15 ऑक्सीजन कन्सट्रेटर शुरू कर दिए हैं। कोविड अस्पताल में 60 बैड के लिए बिछाई गई पाइपलाइन को चैक करवा लिया है। पिछले साल संक्रमितों को आक्सीजन की सप्लाई बाधित नहीं हो इसके लिए आक्सीजन के सिलेंडर की आपूर्ति करने के लिए फर्म को निर्देशित किया गया। जरूरत पडने पर कल्याण अस्पताल में आक्सीजन पाइपलाइन वाले 150 बेड पर भी कोविड के मरीजों को भर्ती किया जाएगा। इसके लिए अस्पताल का स्टॉफ एलर्ट मोड पर रहन के लिए निर्देश दिए गए हैं।


दवाओं की मांगी जानकारी
जिला औषधि नियंत्रण अधिकारी बलदेव चौधरी ने बताया कि कोरोना संक्रमण के फैलने की गति को देखते हुए जिले के सभी दवा विक्रेताओं से कोविड उपचार में काम में आने वाली दवाओं, इंजेक्शन की उपलब्धता की सूची मांगी गई है। इसके अलावा मास्क और सैनेटाइजर की किसी प्रकार से किल्लत नहीं हो और कालाबाजारी नहीं हो इसके लिए भी सभी थोक और खुदरा दवा विक्रेताओं को पाबंद किया गया है। आक्सीजन की आपूर्ति करने वाली सभी फर्मों को पाबंद कर दिया गया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned