वैक्सीनेशन: टीके लगाने के लिए बुजुर्गों में दिखा उत्साह

कोरोना वैक्सीनेशन के तीसरे चरण के पहले दिन रही अव्यवस्थाएं
जानकारी नहीं होने से कम पहुंचे बुजुर्ग, आज 22 केन्द्रों पर होगा टीकाकरण

By: Puran

Published: 02 Mar 2021, 08:35 AM IST



केस एक: दूजोद के 75 वर्षीय देवी प्रसाद अपनी 70 वर्षीय पत्नी के साथ दोपहर करीब साढे 12 बजे कल्याण अस्पताल में पहुंचे। टीका लगवाने के बाद आधे घंटे तक आब्जर्वेशन में रहे। बाहर निकलने पर पति-पत्नी ने बताया कि टीका लगवाने के बाद काफी राहत महसूस कर रहे हैं। इसके साथ ही कोरोना का भय मन से निकल गया है।
केस दो : कल्याण अस्पताल में वैक्सीनेशन करवा कर सुबह साढे 11 बजे बाहर निकले सीकर के वार्ड 28 निवासी बुजुर्ग राजूराम ने बताया कि कोरोना से बचाव का सबसे बेहतर उपाय वैक्सीन ही है। अब वैक्सीन लगवाने के बाद आत्म विश्वास बढ़ा है।
सीकर. जिले में वैश्विक महामारी कोरोना से लडऩे के लिए वैक्सीनेशन के तीसरे चरण का आगाज हुआ। अभियान के तहत सोमवार को जिले में 20 स्थानों पर 3 हजार 98 लोगों को कोरोना वायरस से बचाव का टीका लगाया गया। पहले ही दिन वैक्सीनेशन के दौरान अव्यवस्थाएं से जूझना पड़ा। एप पर पंजीयन की अनिवार्यता के कारण पंजीयन नहीं हो सके। इस कारण बुजुर्गों को टीकाकरण केन्द्रों पर 30 मिनट से लेकर एक से सवा घंटे तक इंतजार करना पड़ा। बाद में ऑफलाइन सूची बनाकर अभियान शुरू किया गया। टीकाकरण शुरू की जानकारी नहीं होने से सेंटर्स पर कम संख्या में टीके लगाए गए। दिनभर अस्पतालों में वैक्सीन लगाने के पात्र लोगों का इंतजार होता रहा। जिला मुख्यालय पर कल्याण अस्पताल में महज 143 सीनियर सिटीजन को ही टीके लगाए गए। जबकि 156 लोगों ने कोरोना की दूसरी खुराक ली।

मतदान केन्द्रों की तर्ज पर बनाएंगे बूथ

तीसरे चरण में शामिल होने वाले लोगो की संख्या को देखते हुए इस अभियान को जिले में मतदान केन्द्रों की तर्ज पर किया जाएगा। पूल बनाकर इनके आस-पास के चिकित्सा संस्थान और निजी अस्पतालों को चिह्नित कर वैक्सीन बूथ बनाए जाएंगे। इस अभियान के साथ हेल्थ वर्कर और फ्रंटलाइन वर्करों को दूसरी डोज भी लगाई जाएगी।

बुजुर्गों को पहली और हेल्थ वर्कर्स को दूसरी डोज

जिलेभर में 60 वर्ष से अधिक तथा 45 से 60 तक के गंभीर बीमारियों से पीडित व्यक्तियों को कोरोना वायरस से बचाव की पहली खुराक लगाई गई। जबकि हैल्थ केयर वर्कर्स व फ्रंटलाइन वर्कर्स को द्वितीय खुराक लगाई गई। 60 से अधिक आयु के 2 हजार 214 लोगों को पहली खुराक लगाई गई। 34 हैल्थ केयर व फ्रंट लाइन वर्कर्स को पहली खुराक लगाई गई। 808 हैल्थ वर्कर्स को द्वितीय खुराक लगाई गई। जिला प्रजनन एवं शिशु स्वास्थ्य अधिकारी डॉ निर्मल सिंह ने बताया कि वरिष्ठ नागरिक और 45 से 60 तक के किडनी, कैंसर, हृदय व अन्य गंभीर बीमारियों से पीडि़त व्यक्ति खुद का फोटो युक्त पहचान पत्र के साथ जाकर सेशन स्थल पर रजिस्ट्रेशन करवाकर टीका लगवा सकते हैं।

22 स्थानों पर आज लगेगा कोरोना बचाव का टीका

चिकित्सा विभाग की ओर से मंगलवार को 22 स्थानों पर 65 साल व इससे अधिक आयु वर्ग के और 45 से 60 साल के गंभीर बीमारियों से पीडित लोगों को टीका लगाया जाएगा। विभाग की ओर से टीकाकरण सेशन साइट बढाई गई है। जबकि जिला मुख्यालय पर बने निजी अस्पताल को टीकाकरण से दूर किया गया है। गणेश्वर, गुहाला, जीलो के सरकारी अस्पताल में भी टीके लगाए जाएंगे। सीकर शहर के श्री कल्याण अस्पताल में दो टीकाकरण सत्र स्थलों पर टीका लगाया जाएगा। झुंझुनूं बाईपास पर स्वास्थ्य भवन के पास संचालित अरबन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नंबर तीन में टीका लगाया जाएगा। जिले के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र फतेहपुर, रामगढ़ सेठान, लक्ष्मणगढ़, नेछवा, पिपराली, पलसाना, श्रीमाधोपुर, रींगस, खण्डेला, जाजोद, दांता, खाटूश्यामजी, पाटन, कूदन, धोद और एसडीएच नीमकाथाना में नि:शुल्क लगाया जाएगा।


योजना से जुडे निजी अस्पताल नहीं होने से परेशानी

गाइडलाइन के अनुसार कोरोना वैक्सीनेशन के तीसरे चरण में केवल वे निजी अस्पताल केन्द्र बनाए जाएंगे जो आयुष्मान स्वास्थ्य बीमा योजना से जुड़े हुए हैं। लेकिन सीकर जिला मुख्यालय पर इस योजना से जुडे अस्पताल नहीं होने से केवल सरकारी संस्थान है जहां टीकाकरण किया जा सकेगा। ऐसे में तीसरे चरण में शामिल होने वाले लोगों की संख्या को देखते हुए परेशानी आएगी।

Puran Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned