फसलें तबाह, किसान बेबस, राम रूठा अब राज से उम्मीद

किसान बोले, सरकार दे मुआवजा, कलक्टर को बताया दर्द
माकपा, यूथ कांग्रेस, लोकतांत्रिक पार्टी, भाजपा किसान मोर्चा सहित कई संगठनों ने प्रदर्शन कर दिए ज्ञापन

By: Suresh

Updated: 25 Sep 2021, 06:18 PM IST

सीकर. जिले के अनेक गांवों में बारिश से खराब हुई किसानों की फसलों उचित मुआवजा की मांग को लेकर शुक्रवार को किसानों का आक्रोश सड़क पर दिखा। यूथ कांग्रेस के प्रतिनिधि मंडल में जिला अध्यक्ष दिनेश झीगर, सरपंच विजय बगडिय़़ा, कुलदीप आज़ाद, सेवादल अध्यक्ष रविकांत तिवाड़ी, अजय नायक सहित कार्यकर्ता मौजूद थे। वहीं राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के प्रतिनिधि मंडल में जिला अध्यक्ष महेंद्र डोरवाल , विकास पचार सबलपुरा ,सांवरमल मुवाल, हरी नागा ,रामस्वरूप जाखड़ सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित रहे। वहीं राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी और सीकर यूथ कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल जिला कलक्टर को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में जिले के किसानों के नुकसान को देखते हुए विशेष गिरदावरी करवाकर आर्थिक पैकेज जारी करवाने की मांग की गई। बताया कि फसल बीमा कंपनी की ओर से सर्वे करवाकर नुकसान की पोर्टल पर एंट्री करवाए जिससे किसानों को नुकसान का मुआवजा मिल सके। बताया जिले में किसानों की मूंग ,मोठ ,ग्वार, बाजरा, प्याज की पौध की फसलें बेमौसम की बारिश से नष्ट हुई है। कई जगह फलियों और सिट्टो में दाने अंकुरित हो गए हैं।
किसान मोर्चा ने रखी मुआवजे की मांग
सीकर. भाजपा किसान मोर्चा ने फसलों के उचित मुआवजे की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम कलक्टर को ज्ञापन सौंपा। जिलाध्यक्ष शिवभगवान बगडिय़ा ने बताया कि जिले के कई इलाकों में बाजरा, मूंग, मुंगफली, मोठ, प्याज, पौध और ग्वार की फसले खराब हो चुकी हैं। जिला महामंत्री राजू गुर्जर ने कहा कलक्टर ने जिलाध्यक्ष बगडिय़ा को आश्वासन दिया है कि एसडीएम, तहसीलदार, कृषि पर्यवेक्षक से 7 दिन में सर्वे करवा दिया जाएगा। अगर प्रदेश सरकार ने 7 दिन में पटवारियों से गिरदावरी करवाकर मुआवजा राशि जारी नहीं की तो, प्रदेशभर में आंदोलन शुरू होगा। इस दौरान श्रीराम बिजारणियां, खूड़ी मंडल अध्यक्ष प्यारेलाल कटारिया, हंसराज बिसु, नरेश कुमार, किसान किशोर गुर्जर नानी, किशोर सिंह दुजोद, रामदेवाराम, रामेश्वर लाल सुंडा आदि मौजूद रहे।
जिले में बारिश से नुकसान के बावजूद फसल बीमा कंपनी किसानों की समस्याएं नहीं सुन रही है। बीमा कंपनी की मनमर्जी के विरोध को लेकर शुक्रवार को किसान संगठनों के प्रतिनिधि मंडल ने जिला कलक्टर को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में बताया कि राज्य सरकार की गाइडलाइन के अनुसार बीमा कंपनी नहीं चल रही है। बीमा कंपनी गांव में जाकर के कैंप लगाकर न तो बीमा की पॉलिसी वितरित करती, ना ही टोल फ्री नंबर 1800 266 0 700 को रिसीव कर रही है जैसे जिले के किसानों में आक्रोश है। किसान संगठनो ने गिरदावरी करवा कर समस्या को दूर नहीं करवाने पर आंदोलन करने की चेतावनी दी है। प्रतिनिधि मंडल में अखिल भारतीय किसान सभा के राज्य अध्यक्ष पेमाराम अखिल भारतीय किसान सभा के जिला महासचिव सागर खाखरिया और अखिल भारतीय खेत मजदूर यूनियन के संयोजक रामरतन बगडिय़ा शामिल रहे।
नेछवा. इलाके के किसानों ने बताया कि पानी भर जाने से खड़ी मूंग की फसल नष्ट हो गई। नेछवा के किसान श्यामसुंदर सोनी ने बताया कि चवला की फसल काट कर खेत में रखी थी। पूरी फसल खलिहान में ही खराब हो गई। नेछवा पंचायत समिति की 18 ग्राम पंचायतों के अधिकतर खेतों में अतिवृष्टि के कारण फसल को भारी नुकसान हुआ है। पूर्व उपप्रधान चोखाराम बुरड़क ने गिरदावरी करवाने की मांग की है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned