जवान के शव से लिपटकर बिलखती बहन बोली- राखी तो बांध लेने दो, 5 साल के बेटे ने पूछा- मेरे पापा कहां गए

जवान के शव से लिपटकर बिलखती बहन बोली- राखी तो बांध लेने दो, 5 साल के बेटे ने पूछा- मेरे पापा कहां गए

Vinod Singh Chouhan | Updated: 04 Jul 2019, 12:23:29 PM (IST) Sikar, Sikar, Rajasthan, India

CRPF Jawan Funeral : सीआरपीएफ के जवान सिकंदर सिंह का बुधवार को उसके गांव में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया।

नीमकाथाना.

crpf jawan funeral : सुुबह का समय। विलाप से टूटता सन्नाटा। बेटे को पुकारती मां। सिसकता बेटा। बेसुध पत्नी और हर किसी की आंखें नम। कुछ ऐसे ही माहौल में सीआरपीएफ के जवान सिकंदर सिंह का बुधवार को उसके गांव में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। सिकंदर की शनिवार रात को शिकोहाबाद में ट्रेन से गिरने के कारण मौत ( CRPF Jawan death in Accident ) हो गई थी।

CRPF Jawan Funeral : सीआरपीएफ के जवान सिकंदर सिंह का बुधवार को उसके गांव में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया।

झारखंड में तैनात सिकंदर छुट्टी बिताने घर आ रहा था, तभी यह हादसा हो गया। पांच दिन बाद जैसे ही जवान का शव भूदोली पहुंचा तो घर पर कोहराम मच गया। बहन शिक्षावती ने छोटे भाई सिकंदर के ताबूत से लिपट कर अधिकारी से बोली, साहब! आखरी बार भाई की कलाई पर रक्षासूत्र तो बांध लेने दो। इस दृश्य देख हर किसी का दिल पसीज गया।

 

Read More :

सात जन्मों की डोर छह माह में ही टूटी, शादी की साड़ी से लगाया मौत को गले

CRPF Jawan Funeral : सीआरपीएफ के जवान सिकंदर सिंह का बुधवार को उसके गांव में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया।

इकलौती बहन इकलौते भाई को ताबूत के राखी बांध अंतिम यात्रा में शामिल होकर मोक्षधाम पहुंची। जहां उपखंड अधिकारी अंजू शर्मा, तहसीलदार बृजेश गुप्ता, सीआरपीएफ के अधिकारी, पूर्व विधायक रमेश खंडेलवाल सहित ग्रामीणों ने पुष्प अर्पित किए। इसके बाद सीआरपीएफ टीम से आए जवानों ने सिकंदर को अंतिम सलामी दी।

CRPF Jawan Funeral : सीआरपीएफ के जवान सिकंदर सिंह का बुधवार को उसके गांव में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया।

मेरे पापा कहां गए ?
सिकंदर सिंह के पांच वर्षीय बेटे विशाल ने पिता को मुखाग्नि दी। विशाल हर किसी से पूछ रहा था मेरे पापा कहां गए। हालांकि इस प्रश्न का जवाब किसी के पास नहीं था। पत्नी मितलेश कंवर और मां वीरवती देवी के आंख से आंसु रुकने का नाम नहीं ले रहे थे। जवान इकलौता पुत्र था। पिता धर्मसिंह की पहले ही मौत हो चुकी है। परिवार में यही एक कमाने वाला था। अंतिम संस्कार के दौरान इस मौके पर सरपंच प्रमोद कुमार वर्मा, पूर्व सरपंच सुरेश शर्मा, चतर सिंह, रोहिताश मीणा सहित अनेक ग्रामीण उपस्थित थे। ( CRPF Jawan Funeral in neem ka thana Sikar )

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned