scriptDTO scheme. Army recruitment will start again | Army Recruitment: हमारे युवा अब फिर जाएंगे बॉर्डर पर, प्रदेश के सात लाख बेरोजगारों का इंतजार पूरा | Patrika News

Army Recruitment: हमारे युवा अब फिर जाएंगे बॉर्डर पर, प्रदेश के सात लाख बेरोजगारों का इंतजार पूरा

कोरोना के बाद से नियमों में उलझी सेना भर्ती रैलियों को केन्द्र सरकार ने अब अग्निपथ के जरिए अनलॉक करने का ऐलान कर दिया है।

सीकर

Updated: June 16, 2022 05:16:38 pm

सीकर. कोरोना के बाद से नियमों में उलझी सेना भर्ती रैलियों को केन्द्र सरकार ने अब अग्निपथ के जरिए अनलॉक करने का ऐलान कर दिया है। लेकिन नियमों में बदलाव की वजह से प्रदेश के युवाओं में थोड़ी खुशी और थोड़ा गम है। कई साल से सेना भर्ती रैली की तैयारी में जुटे युवाओं का अब फिर से बॉर्डर पर जाने का सपना पूरा हो सकेगा। प्रदेश के सात लाख सेना भर्ती रैलियों की तैयारी में जुटे है। अकेले सीकर, चूरू व झुंझुनूं जिले से दो लाख युवा तैयारी में जुटे हैं।

हमारे युवा अब फिर जाएंगे बॉर्डर पर, प्रदेश के सात लाख बेरोजगारों का इंतजार पूरा
हमारे युवा अब फिर जाएंगे बॉर्डर पर, प्रदेश के सात लाख बेरोजगारों का इंतजार पूरा

यह बोले तैयारी करने वाले युवा व एक्सपर्ट

शहादत हमारी परम्परा, हम जाएंगे बॉर्डर पर

सेना भर्ती की तैयारी में जुटे आशीष मावलिया व दिनेश कुमार का कहना है कि शेखावाटी के युवाओं ने हर युद्ध में शहादत देने की परम्परा बनाई है। नौकरी सेना के जरिए स्थायी मिले या अस्थाई हम अग्निपथ योजना के जरिए बॉर्डर पर जाने को तैयार है।

सरकार पर नहीं आएगा आर्थिक भार

एक्सपर्ट सोनिया कंवर का कहना है कि सरकार की इस पहल से सरकार पर कोई आर्थिक भार नहीं आएगा। वहीं युवाओं का रूझान भी बढ़ेगा। पिछले तीन साल से युवा सेना भर्ती रैलियों का इंतजार कर रहे थे। अब सरकार ने हरी झंडी दी है। इससे सेना में जवानों की कमी पूरी हो सकेगी। युवाओं को रोजगार के अवसर भी मिल सकेगे।

ओवरएज अभ्यर्थियों को मिले छूट

अभ्यर्थी बाबूलाल, अभयलाल, रामचंद व भागूलाल का कहना है कि कोरोना के कारण समय पर सेना भर्ती रैली नहीं हो सकी। ऐसे में भर्ती कार्यालय को न्यूनतम एक साल की छूट की प्रावधान करना होगा। युवाओं का कहना है कि जिन क्षेत्रों का सक्सेस रेट ज्यादा है उन क्षेत्रों में ज्यादा सेना भर्ती रैली का आयोजन करना चाहिए। उन्होंने बताया कि शेखावाटी से उठी बुलंद आवाज के बाद सरकार ने पैटर्न बदलकर घोषणा की है।

और ऐसे समझें फायदे-नुकसान का गणित

परेशानी: जिन 75 फीसदी को निकाला जाएगा, उनका भविष्य क्या

अग्निपथ योजना के जरिए सरकार ने भर्ती पैटर्न को नहीं बदला है। सेवा अवधि को कम किया गया है। अब तक सेना में 17 साल तक भी नौकरी करते थे। लेकिन अब चार साल की सेवा अवधि तय की है। इनमें से सिर्फ 25 फीसदी को नियमित किया जाएगा। ऐसे में सवाल है कि जिन 75 फीसदी को बाहर किया जाएगा उनका चार साल बाद भविष्य क्या होगा।

फायदा: आर्थिक बोझ कम होगा, नया यूथ भी जुड़ेगा

एक्सपर्ट साोनिया कंवर व शंकर बगडिय़ा का कहना है कि इससे सेना का आर्थिक बोझ कम होगा। वहीं अब तक लंबी सेवा की वजह से कई युवा सेना से नहीं जुड़ पा रहे थे। ऐसे युवा भी अब भारतीय सेना में शामिल हो सकेंगे। ऐसा भी नहीं है कि शहादत पर पहले की तरह पूरा सम्मान मिलेगा। सरकार ने आर्थिक पैकेज को भी इस योजना में शामिल किया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: खतरे में MVA सरकार! समर्थन वापस लेने की तैयारी में शिंदे खेमा, राज्यपाल से जल्द करेंगे संपर्क?Maharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे की याचिका पर SC ने डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस और केंद्र को भेजा नोटिस, 5 दिन के भीतर जवाब मांगाMaharashtra Political Crisis: सुप्रीम कोर्ट से शिंदे खेमे को मिली राहत, अब 12 जुलाई तक दे सकते है डिप्टी स्पीकर के अयोग्यता नोटिस का जवाब"BJP से डर रही", तीस्ता की गिरफ़्तारी पर पिनाराई विजयन ने कांग्रेस की चुप्पी पर साधा निशानाअंबानी परिवार की सुरक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट कल करेगा सुनवाई, जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शिवसैनिकों से बोले आदित्य ठाकरे- हम दिल्ली में भी सत्ता में आएंगेMaharashtra Political Crisis: शिंदे खेमा काफी ताकतवर, उद्धव ठाकरे के लिए मुश्किल होगा दोबारा शिवसेना को खड़ा करनासचिन पायलट बोले-गहलोत मेरे पितातुल्य, उनकी बातों को अदरवाइज नहीं लेता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.