शिक्षा मंत्री डोटासरा ने कहा- मोदी सरकार ने नहीं लिया शहादत का बदला, देश में आपातकाल

(Education Minister Dotasara said- Modi government did not take revenge for martyrdom, Emergency in the country)देश में पेट्रोल व डीजल की लगातार मूल्य वृद्धि के विरोध में कांग्रेस ने सोमवार को कलेक्ट्रेट पर धरना देकर प्रदर्शन किया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। राष्ट्रपति के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर तेल की बढ़ी कीमतें वापस लेने की मांग भी की।

By: Sachin

Updated: 29 Jun 2020, 07:07 PM IST

सीकर. देश में पेट्रोल व डीजल की लगातार मूल्य वृद्धि के विरोध में कांग्रेस ने सोमवार को कलेक्ट्रेट पर धरना देकर प्रदर्शन किया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। राष्ट्रपति के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर तेल की बढ़ी कीमतें वापस लेने की मांग भी की। धरने में शिक्षा राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा भी शामिल हुए। जिन्होंने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। कहा कि मोदी सरकार को ना तो महंगाई दिख रही है, ना व्यापारी, किसानों व प्रवासियों की परेशानी दिख रही है। मंत्री डोटासरा ने कहा कि देश में आपातकाल से हाल हो गए हैं। कहा, कि यूपीए सरकार में तेल की कीमतों में थोड़ी सी भी बढ़ोत्तरी होने पर मोदी यूपीए सरकार को हटाने की बात कहने लगते थे। अब उन्हीं की सरकार जनता पर लॉकडाउन के आर्थिक भार के बीच भी तेल की कीमतों का बोझ लाद रही है।

लॉकडाउन व शहादत पर घेरा
मोदी सरकार पर हमलावर डोटासरा ने कहा कि मोदी सरकार के लॉकडाउन के फैसले पर भी सवाल उठाए। कहा कि फैसला भी गलत तरीके से लिया गया। चीन के साथ झड़प में शहीद हुए सैनिकों पर भी शिक्षा मंत्री ने कहा कि मोदी सरकार ने चाइना से भी हमारे सैनिक शहीद करवा दिए। लेकिन, उसके बदले की कोई कार्रवाई नहीं की। इस दौरान डोटासरा ने मुख्यमंत्री गहलोत व मनरेगा योजना की भी तारीफ की। कहा कि जिस मनरेगा की भाजपा बुराई करती थी। वही मनरेगा योजना लॉकडाउन में घर लौटे प्रवासियों के रोजगार के काम आ रही है और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की खाद्य सुरक्षा योजना से उन्हें भोजन भी मिल रहा है। कहा, कि खुद मोदी भी राज्य के मॉडल की तारीफ कर चुके हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned