VIDEO. शिक्षा मंत्री ने किया मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण, शिक्षण संस्थान बंद रखने के दिए निर्देश

सीकर. प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष तथा शिक्षा राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा (Rajasthan Education Minister Govind Singh Dotasara)ने कहा है कि प्रदेश में तीन मई तक मनाया जा रहा जन अनुशासन पखवाड़ा सम्पूर्ण लॉकडाउन नहीं है।

By: Sachin

Updated: 19 Apr 2021, 02:02 PM IST

सीकर. प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष तथा शिक्षा राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा (Rajasthan Education Minister Govind Singh Dotasara)ने कहा है कि प्रदेश में तीन मई तक मनाया जा रहा जन अनुशासन पखवाड़ा सम्पूर्ण लॉकडाउन नहीं है। इसमें हवाई व रेलवे सरीखी यात्रा के अलावा कई जरूरी सेवाओं की छूट है। जिसकी भी मुख्यमंत्री स्तर पर नियमित समीक्षा होगी। समीक्षा के आधार पर ही आगे के फैसले होंगे। सीकर के श्रीकल्याण मेडिकल कॉलेज के निरीक्षण के दौरान प्रेस को संबोधित करते हुए डोटासरा ने ये बात कही। उन्होंने कहा कि कोरोना को लेकर स्थिति भयावह होती जा रही है। जिसमें कफ्र्यू के फैसले को आगे बढ़ाने के अलावा कोई विकल्प नहीं था। इस दौरान शिक्षा राज्य मंत्री ने 3 मई तक सभी सरकारी व निजी शिक्षण संस्थान पूरी तरह बंद रखने की बात कहते हुए शिक्षकों को घर से ही ऑनलाइन कार्य करने के निर्देश भी दिए।

मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण कर विद्यार्थियों से मिले
शिक्षा राज्य मंत्री डोटासरा ने सोमवार को सीकर की श्रीकल्याण मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने कॉलेज के पूरे भवन का मुआयना कर प्रिंसिपल डा. के.के वर्मा से स्टाफ व साधन- संसाधन की जानकारी ली। विद्यार्थियों से वार्ता कर उन्हें कॉलेज में किसी भी तरह की समस्या नहीं होने देने का आश्वासन दिया। उन्होंने विद्यार्थियों को पेशे में सेवा भाव रखने तथा कोरोना वायरस को लेकर आमजन में जागरुकता बढ़ाने का कार्य करने की बात भी कही। शिक्षा मंत्री कॉलेज की व्यवस्थाओं से खासे संतुष्ट दिखे।

ट्वीट से भी दी जानकारी
शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने लॉकडाउन के दौरान शिक्षण संस्थान बंद रखने की जानकारी ट्वीट कर भी दी है। उन्होंने लिखा की राजस्थान में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए जन अनुशासन पखवाड़ा मनाया जा रहा है। इस दौरान तमाम शिक्षण संस्थान बंद रहेेंगे। शिक्षकों को वर्क फ्रॉम होम करना है।

स्कूल पहुंचे शिक्षक, आदेश के बाद लौटे
इससे पहले जन अनुशासन पखवाड़े में शिक्षण संस्थानों के अवकाश को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं होने से सरकारी स्कूल के शिक्षक व कर्मचारी गफलत में रहे। शिक्षकों के गु्रप में सुबह से ही शिक्षण संस्थानों में जाने को लेकर सवाल- जवाब शुरू हो गए। स्थिति साफ नहीं होने पर ज्यादातर स्टाफ स्कूल पहुंच भी गया। बाद में शिक्षा राज्य मंत्री के ट्वीट व शिक्षा विभाग के आदेश के बाद स्टाफ वापस घर लौटना शुरू हुआ।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned