फरवरी में होने वाली रीट के लिए शिक्षा मंत्री बोले, नियमों में होगा बदलाव

प्रदेश के दस लाख से अधिक युवाओं का रीट भर्ती का इंतजार जल्द होगा पूरा। पंचायतीराज व शिक्षा विभाग रीट परीक्षा के नियमों के बदलाव में जुट गया है।

By: Sachin

Published: 19 Oct 2020, 11:57 AM IST

सीकर. प्रदेश के दस लाख से अधिक युवाओं का रीट भर्ती का इंतजार जल्द होगा पूरा। पंचायतीराज व शिक्षा विभाग रीट परीक्षा के नियमों के बदलाव में जुट गया है। इस महीने के आखिर तक वैटेज व कुछ वर्गो को अंकों में छूट देने सहित अन्य नियमों में फेरबदल हो जाएगा। इसके बाद नवम्बर तक रीट की विज्ञप्ति जारी हो जाएगी। इस बार भी रीट परीक्षा के आयोजन का जिम्मा राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर को दिया जाएगा। शिक्षा राज्य मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने पत्रिका से बातचीत में इस तरह के संकेत दिए है। उन्होंने बताया कि आवेदन प्रक्रिया व प्रश्न पत्र तैयार कराने में लगभग तीन महीने का समय लग जाएगा। ऐसे में फरवरी महीने में रीट परीक्षा हो सकती है। गौरतलब है कि राजस्थान पत्रिका ने पिछले दिनों रीट परीक्षा को लेकर राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड को परीक्षा का जिम्मा मिलने का समाचार प्रकाशित किया था।

पिछली बार भी फरवरी महीने में परीक्षा
रीट 2018 का आयोजन भी फरवरी महीने में हुआ था। बोर्ड की ओर से फरवरी में रीट का आयोजन कराने की मुख्य वजह बोर्ड परीक्षाओं का दवाब नहीं होना है। रीट 2020 का आयोजन भी फरवरी में होने की संभावना है।

रीट के जरिए होनी है 31 हजार शिक्षकों की भर्ती
रीट के जरिए तृतीय श्रेणी शिक्षकों के 31 हजार पदों के लिए भर्ती होनी है। बजट में मुख्यमंत्री ने तृतीय श्रेणी शिक्षकों के रिक्त पदों को रीट के जरिए भरने की घोषणा की थी। लेकिन कोरोना की वजह से रीट परीक्षा की विज्ञप्ति अब जारी होगी।

दोनों लेवलों के लिए अलग-अलग विज्ञप्ति
रीट इस बार भी प्रथम व द्वितीय लेवल के हिसाब से होगी। रीट प्रथम लेवल व द्वितीय लेवल के लिए अलग-अलग जारी होगी। खास बात यह है कि सामाजिक विज्ञान विषय में वाणिज्य संकाय के विद्यार्थियों को शामिल करने की वजह से अभ्यर्थयों की संख्या बढऩे के मामले में विभाग गंभीरता से विचार कर रहा है। इस मामले में सामाजिक विज्ञान वर्ग के अभ्यर्थियों को राहत मिल सकती है।

अगले दस दिनों में इन प्रस्तावों पर मुहर
1. वैटेज: 90: 10 होने के आसार
रीट द्वितीय लेवल में वैटेज 90:10 होने की पूरी संभावना है। रीट के 90 फीसदी अंक और स्नातक के दस फीसदी अंक शामिल होंगे। इस निर्णय का प्रदेश के दस लाख युवाओं को इंतजार है।

2. रीट के अंकों में छूट: कई वर्गो को पांच से दस फीसदी की
रीट के न्यूनतम अंकों में पांच से दस फीसदी की छूट मिलने का प्रस्ताव भी विचाराधीन है। इस प्रस्ताव का सबसे ज्यादा टीएसपी एरिया के अभ्यर्थियों को इंतजार है। इस मुद्दे का निर्णय होने के बाद ही रीट की विज्ञप्ति जारी हो सकेगी।

इनका कहना है
रीट भर्ती की तैयारी लगभग पूरी है। नवम्बर महीने में रीट की विज्ञप्ति माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से जारी की जाएगी। फरवरी में रीट परीक्षा का आयोजन होने की संभावना है।
गोविन्द सिंह डोटासरा, शिक्षा मंत्री

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned