बेटी के बलात्कारी- हत्यारों को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर परिजनों ने किया रास्ता जाम, चौकी पर दिया धरना

राजस्थान के सीकर जिले के ग्रामीण इलाके में 4 जुलाई को रेलवे की पटरी पर मिले एक युवती के शव के मामले में परिजनों ने आज कस्बे के बस स्टैंड पर जाम लगाकर आक्रोश प्रदर्शित किया।

By: Sachin

Published: 27 Jul 2020, 03:23 PM IST

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के ग्रामीण इलाके में 4 जुलाई को रेलवे की पटरी पर मिले एक युवती के शव के मामले में परिजनों ने आज कस्बे के बस स्टैंड पर जाम लगाकर आक्रोश प्रदर्शित किया। उनका आरोप है कि युवती का बलात्कार कर उसके सिर को पत्थर से कुचलकर उसकी हत्या की गई थी। इसके बाद हत्या को आत्म हत्या दिखाने के लिए आरोपियों ने उसके शव को रेलवे ट्रेक पर फैंका था। जिसकी पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद भी पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। वहीं, आरोपी पक्ष के लोग अब परिवार को भी जिंदा जलाकर मारने की धमकी दे रहे हैं। लेकिन, इसकी भी शिकायत करने पर पुलिस एफआईआर दर्ज नहीं कर रही। आक्रोशित परिजनों ने इस दौरान पुलिस के खिलाफ नारे लगाते हुए आरोपियों से मिलीभगत के आरोप भी लगाए। करीब एक घंटे तक रास्ते पर चले प्रदर्शन से रास्ते पर जाम लग गया। सूचना पर थानाधिकारी मौके पर पहुंचे और आरोपी को दो घंटे में हिरासत में लेने का आश्वासन देकर मामला शांत करवाया।

चौकी पर दिया धरना
थानाधिकारी के आश्वासन पर प्रदर्शनकारी एकबारगी तो शांत हो गए, लेकिन, आरेापी को गिरफ्तार नहीं करने तक चौकी पर बैठे रहने की चेतावनी देते हुए पुलिस चौकी के सामने ही धरने पर बैठ गए। तब से उनका प्रदर्शन जारी है। उधर, मामले में पुलिस निष्पक्ष जांच कर दोषी के खिलाफ कार्रवाई की बात कह रही है।

यह है मामला
सीकर के ग्रामीण इलाके में चार जुलाई को एक युवती का शव रेल की पटरियों के पास मिला। युवती के कपड़े अस्त- व्यस्त व सिर पर चोट के निशान थे। जिसकी सूचना पर पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाकर मामले की जांच शुरू की थी। मामले में परिजनों का आरोप है कि युवती का बलात्कार करके उसकी पत्थर से सिर कुचलकर हत्या के बाद शव रेलवे पटरी पर फेंका गया था। जिसमें आरोपियों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट भी लिखाई गई थी। लेकिन, मामले में पुलिस आरोपियों से मिलकर उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned