किसानों ने गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में ट्रेक्टर परेड की दी चेतावनी

शाहजहांपुर बोर्डर पर पड़ाव डालकर बैठे किसानों ने कृषि बिल वापस नहीं लेने पर गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में किसान ट्रेक्टर परेड निकालने की चेतावनी दी है।

By: Sachin

Updated: 03 Jan 2021, 06:04 PM IST

सीकर. शाहजहांपुर बोर्डर पर पड़ाव डालकर बैठे किसानों ने कृषि बिल (three agriculture bills 2020) वापस नहीं लेने पर गणतंत्र दिवस (Republic Day 2020) पर दिल्ली में किसान ट्रेक्टर परेड निकालने की चेतावनी दी है। संयुक्त किसान मोर्चा के पदाधिकारियो ने प्रेसवार्ता में यह जानकारी दी है। किसान नेताओं ने बताया कि मोर्चा की ओर से 26 जनवरी तक अलग-अलग चरणों में कार्यक्रम होंगे। जिसमें 6 जनवरी से 20 जनवरी तक देश जागृति पखवाड़ा मनाया जाएगा। पखवाड़े में हर जिले में धरने और पक्के मोर्चे आयोजित किए जाएंगे। जगह जगह रैलियां और सम्मेलन आयोजित होंगे। प्रेस वार्ता को संयुक्त किसान मोर्चा की सात सदस्य राष्ट्रीय समन्वय समिति के सदस्य बलबीर सिंह राजे वाल, दर्शन पाल, गुरनाम सिंह चढ़ूनी, जगजीत सिंह डल्लेवाल और योगेंद्र यादव ने संबोधित किया। हन्नान मौला की अनुपस्थिति में अशोक धवले और शिवकुमार कक्का जी की अनुपस्थिति में अभिमन्यु कोहाड़ ने वार्ता में भाग लिया।


सरकार के पास दो ही रास्ते

मोर्चा के पदाधिकारियों ने बताया कि अब तक सरकार ने किसानों की किसी भी मांग को पूरी तरह नहीं माना है। ऐसे में सरकार के पास अब केवल दो ही रास्ते है। जिनमें पहला किसानों पर थोंपे गए इन तीन कृषि कानूनों को वापस लेने और किसानों को एमएसपी पर खरीद के लिए कानूनी गारंटी देना है। दूसरा रास्ता हक की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे किसानों पर लाठी-गोली चलाना है। अब देखना यही है कि सरकार कौनसा रास्ता अपनाती है। कहा कि 26 जनवरी तक किसानों के आंदोलन के दो माह पूरे हो जाएंगे। ऐसे में तब तक आंदोलन में और गति देखने को मिलेगी।

यह होगी रणनीति
मोर्चा पदाधिकारियों के अनुसार 4 जनवरी की वार्ता विफल रहने पर 6 जनवरी को किसान केएमपी एक्सप्रेस वे पर मार्च निकालेंगे। उसके बाद शाहजहांपुर पर मोर्चा लगाए किसान भी दिल्ली की तरफ कूच करेंगे। 13 जनवरी को लोहड़ी/ संक्रांति के अवसर पर किसान संकल्प दिवस मनाया जाएगा और इन तीनों कानूनों की प्रतियों को जलाया जाएगा। 18 जनवरी को महिला किसान दिवस और 23 जनवरी को आजाद हिंद किसान दिवस मनाकर सभी राजधानियों में राज्यपाल के निवास के बाहर किसान डेरा डालेंगे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned